गठबंधन सरकार के अस्तित्व पर सवालिया निशान: येड्डियूरप्पा

गठबंधन सरकार के अस्तित्व पर सवालिया निशान: येड्डियूरप्पा

Shankar Sharma | Publish: Sep, 02 2018 10:26:43 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

कांग्रेस तथा जनता दल-एस गठबंधन सरकार में प्रशासनिक कामकाज ठप हो गया है। अभी तक एक भी जिला प्रभारी मंत्री ने जिला मुख्यालयों का दौरा नहीं किया है।

कलबुर्गी. कांग्रेस तथा जनता दल-एस गठबंधन सरकार में प्रशासनिक कामकाज ठप हो गया है। अभी तक एक भी जिला प्रभारी मंत्री ने जिला मुख्यालयों का दौरा नहीं किया है। कोई भी मंत्री विधानसौधा में आवंटित चेंबर में बैठकर कार्य नहीं कर रहा है। यह कहना है भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा का।


शनिवार को विजयपुर में उन्होंने कहा कि 100 दिन गुजर जाने के बावजूद राज्य में सरकार के अस्तित्व पर सवालिया निशान लगा हुआ है। दोनों साझीदार शुक्रवार को काफी मशक्कत के पश्चात गठबंधन समन्वय समिति की बैठक करने में सफल रहे हैं। इस सरकार को विपक्ष की भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि विपक्ष का कार्य भी कांग्रेस तथा जद-एस के विधायक ही निभा रहे हैं।अधिकारियों के स्थानांतरण के बाद अब लोक निर्माण तथा जल संसाधन विभाग में ठेकेदारों से कमीशन वसूले जाने की शिकायतें की जा रही हैं।


उन्होंने कहा कि दोनों दलों के नेताओं को राज्य के विकास की कोई चिंता नहीं है दोनों दल केवल सत्ता बरकरार रखने के प्रयास कर रहे हैं। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि नगर निकाय चुनाव में भाजपा को अपेक्षा से अधिक सीटों पर सफलता हासिल होगी।


एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कलबुर्गी हवाई अड्डे का निर्माण किया जा रहा है। लेकिन लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए मल्लिकार्जुन खरगे निर्माण कार्य पूरा होने से पहले ही लोकार्पण करना चाहते हैं। लेकिन वे शायद इस बात को भूल गए हैं कि जब मैं मुख्यमंत्री था तब ही हवाई अड्डा के लिए प्रशासनिक मंजूरी प्रदान की गई थी।

पीएम की हत्या की साजिश है तो त्वरित जांच हो : खादर
बेंगलूरु. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या के प्रयास को लेकर हर तीन माह में एक बार जांच करने के बदले केंद्र सरकार को मामले का तार्किक अंत करना चाहिए। इसमें शामिल लोगों का पर्दाफाश किया जाना चाहिए।

आवास मंत्री यूटी खादर ने यह मांग रखी। यहां शनिवार को उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री कीहत्या का प्रयास कोई साधारण मामला नहीं है। अगर देश का प्रधानमंत्री ही सुरक्षित नहीं होगा तो ऐसी स्थिति में देश के आम जनता की सुरक्षा की क्या गारंटी है।

Ad Block is Banned