बारिश ने मचाई तबाही, मिलेगा 25 हजार मुआवजा

  • मुख्यमंत्री ने किया बारिश से प्रभावित इलाकों का दौरा
  • समस्या के स्थायी समाधान का आश्वासन

By: Ram Naresh Gautam

Updated: 25 Oct 2020, 08:24 PM IST

बेंगलूरु. आइटी सिटी बेंगलूरु में भारी बारिश से हुई तबाही का जायजा लेने के बाद मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने प्रत्येक प्रभावित परिवार को 25 हजार रुपए मुआवजा देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने बारिश से उत्पन्न होने वाली समस्या के स्थाई समाधान का आश्वासन भी दिया।

येडियूरप्पा ने शनिवार को होसकेरेहल्ली का दौरा करने के बाद कहा कि बारिश से जिन लोगों का नुकसान हुआ है उन्हें 25 हजार रुपए की मदद राशि दी जाएगी। यह भुगतान चेक के जरिए किया जाएगा।

उन सभी लोगों को मुआवजा दिया जाएगा, जिनके घरों में बारिश का पानी घुसने के कारण खाद्यान्न, कपड़े और अन्य चीजों का नुकसान हुआ। सरकार बारिश के मद्देनजर एहतियाती कदम उठा रही है।Ó


मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) के अधिकारियों से कहा है कि वे ईमानदारी से काम करें और एक रुपए का भी दुरुपयोग नहीं होना चाहिए। अनुमान है कि 650 से 700 घरों को बारिश के कारण नुकसान उठाना पड़ा है।

बिना मुरव्वत ढहाए जाएंगे अतिक्रमण
मुख्यमंत्री ने बारिश के कारण हुई तबाही के बाद स्थानीय लोगों को समस्या के स्थायी समाधान का आश्वसान दिया। उन्होंने कहा कि इस तरह की समस्या दोबारा नहीं हो, इसके लिए बरसाती नालों के तमाम अतिक्रमणों को बिना किसी मुरव्वत के हटाया जाएगा।

बरसाती नाले दुरुस्त करने और अतिक्रमण हटाने की योजना तैयार है लेकिन, काम अभी चल रहा है। उन्होंने कहा 'हम यह सुनिश्चत करेंगे की अब यहां कोई अतिक्रमण नहीं रहे।

ऐसे कदम उठाए जा रहे हैं कि अब ऐसी घटनाओं का दोहराव यहां नहीं होगा। मैं इस समस्या के स्थायी समाधान का आश्वासन देता हूं। दो-तीन दिन में काम शुरू हो जाएगा और बिना किसी सहानुभूति के सभी अतिक्रमण ढहाए जाएंगे।Ó


दौरे से पहले बैठक
बारिश से प्रभावित इलाकों का दौरा करने से पहले मुख्यमंत्री ने राजस्व मंत्री आर.अशोक, बीबीएमपी के प्रशासक गौरव गुप्ता, आयुक्त एन.मंजुनाथ प्रसाद और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की और स्थिति का जायजा लिया।
मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा बेंगलूरु शहर से जुड़े मामलों के भी प्रभारी हैं। उन्होंने मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मद्देनजर बीबीएमपी को अगले दो दिनों तक अलर्ट रहने का निर्देश दिया और तमाम एहतियाती कदम उठाने को कहा।

प्रभावित इलाकों में अब राहत
गौरतलब है कि शुक्रवार शाम हुई मूसलाधार बारिश के कारण शहर की सड़कों पर भारी जल-जमाव हुआ। सबसे अधिक बेंगलूरु दक्षिण क्षेत्र प्रभावित हुआ। बरसाती नाले उफनने लगे और नाले का पानी सड़़क पर बहने लगा।

होसकेरेहल्ली, नायंडहल्ली, बसवनगुड़ी, बोम्मनहल्ली, राजराजेश्वरी नगर और आसपास के क्षेत्रों में बारिश के कारण भारी तबाही हुई। यहां सड़कें डूब गईं थीं।

होसकेरेहल्ली के करीब गुरुदत्ता लेआउट और दत्तात्रेय नगर और राजराजेश्वरी नगर के कुछ इलाकों में बारिश का पानी घरों में भी घुस गया। तेज बहाव में कई वाहन बह गए।

अधिकारियों के मुताबिक कुछ इलाकों में 100 मिमी से भी अधिक बारिश हुई। हालांकि, शनिवार सुबह मौसम साफ होने और बारिश नहीं होने से पानी सूख गया और लोगों को राहत मिली।

Ram Naresh Gautam Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned