पौधे लगा कर पर्यावरण संरक्षण का संकल्प

पौधे लगा कर पर्यावरण संरक्षण का संकल्प

Rajendra Shekhar Vyas | Updated: 15 Jul 2019, 12:13:52 AM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

राजस्थान पत्रिका हरित प्रदेश अभियान

मंड्या. राजस्थान पत्रिका हरित प्रदेश अभियान से जुड़कर रविवार को तेरापंथ महिला मंडल ने पौधरोपण पर्यावरण संरक्षण में योगदान का संकल्प लिया। तेरापंथ महिला मंडल अध्यक्ष नमिता भंसाली ने पौधा रोप कर शुरुआत की। उन्होंने अभियान की सराहना करते हुए कहा कि पर्यावरण का संतुलन बराबर बनाए रखने के लिए हमें ज्यादा से ज्यादा पौधरोपण करना चाहिए। बारिश के दिनों में पौधारोपण करने से पौधों को पानी पिलाने की जरूरत भी नहीं पड़ती है।
महिला मंडल उपाध्यक्ष टीना दक कहा कि पेड़ों से हमें छांव, फल, फूल, लकड़ी और ऑक्सीजन मिलती है। पेड़ों की घटती संख्या को बढ़ाने के लिए हमें ज्यादा से ज्यादा पौधरोपण पर करना होगा। पूर्व अध्यक्ष किरण भटवेरा कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने घर के आँगन में पौधा लगाकर बड़े करने का संकल्प लेना चाहिए।
पौधरोपण में नीम, गुलमोहर, पीपल, बरगद, नीलगिरी सहित विभिन्न प्रजातियों का पौधा का रोपण किया गया। पौधारोपण कार्यक्रम में ऊषा आच्छा, विमला दक, इंद्रा बाई, सोनल संचेती, रेखा आच्छा, मधु कोठारी, प्रीति भंसाली, कन्या मंडल संयोजिका रितु दक मौजूद रही।

चामुंडी पहाड़ की तलहटी में रोपे पौधे
मैसूरु. चामुंडी पहाड़ की तलहटी स्थित पिंजरापोल सोसाइटी परिसर में रविवार को राजस्थान पत्रिका के हरित प्रदेश अभियान के तहत बड़ी संख्या में पौधे रोपे गए। सहायक पुलिस आयुक्त एनएम धर्माप्पा ने पौधे रोपे। उन्होंने अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि वर्तमान समय में अधिक से अधिक खाली जगह मे पौधे लगाने की आवश्यकता है। जिससे प्रभावित हो रहे पर्यावरण को संतुलित किया जा सके। इस अवसर पर पिंजरापोल सोसाइटी के अध्यक्ष पी.उम्मेदराज सिंघवी, उपाध्यक्ष हंसराज पगारीया, श्री सुमति नाथ जैन श्वेतांबर मूर्ति पूजक संघ के सचिव भैरुमल राठोड़ आदि मौजूद रहे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned