सरकार की उपलब्धियों पर चर्चा को तैयार : सिद्धरामय्या

सरकार की उपलब्धियों पर चर्चा को तैयार : सिद्धरामय्या

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Feb, 22 2018 01:10:44 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

मोदी को यह बताना चाहिए कि नीरव मोदी को देश से भगाने के लिए उनकी सरकार ने कितना कमीशन लिया था। आरोप लगाना बहुत आसान है।

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा कि वे अपनी सरकार के कार्यकाल में हुए विकास कार्य और सरकार की उपलब्धियों पर भाजपा से कहीं भी चर्चा करने को तैयार हैं।

उन्होंने बुधवार शाम मागड़ी रोड स्थित बैगर्स कॉलोनी के परिसर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के नेता उनकी सरकार पर कमीशन सरकार और देश की नंबर एक भ्रष्ट सरकार होने का आरोप लगाते हैं। लेकिन मोदी को यह बताना चाहिए कि नीरव मोदी को देश से भगाने के लिए उनकी सरकार ने कितना कमीशन लिया था। आरोप लगाना बहुत आसान है।

उन्होंने कहा कि मोदी महादयी नदी विवाद सुलझाने मे विफल रहे हैं। रफाएल विमान बनाने के लिए निजी कंपनी से करार कर बेंगलूरु के एचएएल कारखाने को अरबों रुपए का नुकसान पहुंचाया है। मोदी बताएं कि इस मामले में केंद्र सरकार ने कितना कमीशन प्राप्त किया है।

उन्होंने कहा कि सफाई कर्मचारियों की आर्थिक स्थिति सुधारने के उद्देश्य से कई योजनाएं शुरू की गई है। प्रदेश में १० लाख से अधिक सफाई कर्मचारियों की पहचान की गई है। उन्हें रोजगार , सामाजिक न्याय, शिक्षा और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से विकास निगम स्थपित किया गया है। इसके लिए कुल ८५ करोड़ रुपयों का अनुदान जारी किया है। इस निगम के जरिए कई योजनाओं और कार्यक्रमों का परिचय कराया गया है। प्रदेश में बाहरी ठेके या ठेके पर कार्यरत सफाई कर्मचारियों को आवास की कॉलोनियां बनाई जाएंगी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कर्नाटक राज्य सफाई कर्मचारी विकास निगम का उद्घाटन, डॉ.बाबू जगजीवन राम भवन, अध्ययन और अनुसंधान केंद्र तथा अन्य सुविधाओं का उदघाटन किया। उन्होंने जयचामराजेंद्र वाडियार की प्रतिमा का अनावरण भी किया। इसके साथ ही कैंटीन, रिसीविंग केन्द्र और प्रशिक्षण इकाई का उद्घाटन किया। गेस्ट हाउस, कार्यालय, रंगमंदिर, पार्क, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र , पुरुषों और महिलाओं के लिए डॉरमेटरी और केन्द्रीय राहत समिति के कार्यालय का उद्घाटन किया। इस अवसर पर समाज कल्याण मंंत्री और कई अधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned