scriptधर्म के बिना जीवन बेकार: राजेश मुनि | Religion should be in our life: Rajesh Muni Life without religion is useless Religion should be in our life: Rajesh Muni | Patrika News
बैंगलोर

धर्म के बिना जीवन बेकार: राजेश मुनि

राजाजीनगर स्थानक में प्रवचन

बैंगलोरJun 23, 2024 / 05:10 pm

Santosh kumar Pandey

rajesh muni
बेंगलूरु. राजाजीनगर जैन स्थानक में राजेशमुनि ने धर्मसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मानव जीवन के सिवाय अन्य किसी भी जीवन में सर्व त्यागमय धर्म की साधना नहीं हो सकती। यह जीवन धर्म के बिना बेकार है ,व्यर्थ है। धर्म केवल मंदिर ,स्थानक में ही नहीं, हर जगह और हर पल हमारे जीवन में होना चाहिए।
आधि ,व्याधि और उपाधि पर विवेचना प्रस्तुत करते हुए उन्होंने कहा कि मन का रोग आधि ,तन का रोग व्याधि और पद का रोग उपाधि है। और इन तीनों रोगों की दवा समाधि है। ज्ञानी का विश्वास आधि, व्याधि, उपाधि नहीं बल्कि समाधि में होता है।
इसके पूर्व साध्वी सिद्धमश्री ने कहा कि राग-द्वेष ही मानव के पतन का कारण है। जैन धर्म राग द्वेष का नहीं, अपितु वीतरागता का धर्म है। मोह का त्याग करने से ही केवल ज्ञान की प्राप्ति हो सकती है।
नागौर जैन परिषद, बेंगलूरु की महिला विंग अध्यक्ष शशि कांकरिया ने नागौर संघ में 30 जून को होने वाली प्रदर्शनी की जानकारी दी। मुनि का सोमवार का प्रवचन रत्न हितैषी जैन श्रावक संघ, राजाजीनगर में होगा । राजाजीनगर संघ अध्यक्ष प्रकाशचंद चाणोदिया ने आभार ज्ञापित किया संचालन संघ मंत्री नेमीचंद दलाल ने किया।

Hindi News/ Bangalore / धर्म के बिना जीवन बेकार: राजेश मुनि

ट्रेंडिंग वीडियो