आवासीय स्कूलों का क्वारंटीन केन्द्रों के तौर पर इस्तेमाल करें: कारजोल

राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 60 से पार पहुंच गई है और अब तक राज्य में इलस वायरस की चपेट में आकर तीन जनों की मौतें हुई हैं। कारजोल ने कहा कि देश भर में लागू लाकडाउन के कारण सभी शैक्षणिक संस्थाओं में अवकाश घोषित किए गए हैं और प्रदेश की आवासीय स्कूलों व छात्रावासों में अब कोई विद्यार्थी नहीं रह रहे हैं लिहाजा इन स्कूलों व छात्रावासों का उपयोग क्वारंटीन केन्द्रों के तौर पर किया जा सकता है।

By: Surendra Rajpurohit

Published: 27 Mar 2020, 09:21 PM IST

बेंगलूरु

राज्य के उपमुख्यमंत्री व समाज कल्याण मंत्री गोविन्द एम.कारजोल ने प्रदेश में स्थित आवासीय स्कूलों तथा समाज कल्याण विभाग के छात्रावासों का कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्धों के लिए क्वारंटीन केन्द्रों के तौर पर इस्तेमाल करने के संबंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

उन्होंने इस संबंध में शुक्रवार को यहां एक बयान जारी करके कहा कि जहां पर भी आवश्यक हो, इन आवासीय स्कूलों व छात्रावासों को जिला प्रशासन बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के क्वारंटीन सुविधा में बदल सकते हैं। राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 60 से पार पहुंच गई है और अब तक राज्य में इलस वायरस की चपेट में आकर तीन जनों की मौतें हुई हैं। कारजोल ने कहा कि देश भर में लागू लाकडाउन के कारण सभी शैक्षणिक संस्थाओं में अवकाश घोषित किए गए हैं और प्रदेश की आवासीय स्कूलों व छात्रावासों में अब कोई विद्यार्थी नहीं रह रहे हैं लिहाजा इन स्कूलों व छात्रावासों का उपयोग क्वारंटीन केन्द्रों के तौर पर किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि सभी आवासीय स्कूलों व छात्रावासोंं में बड़ी संख्या में लोगों को रखने के लिए स्थान उपलब्ध है और वहां पर कमरो, रसोईघरों, शौचालयों, स्नानघरों व लायब्रेरी की सुविधाएं उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अधिकतर आवासीय स्कूल व छात्रावास घनी बस्ती वाले इलाकों से काफी दूरी पर स्थित है लिहाजा इनको क्वारंटीन केन्द्रों के तौर पर इस्तेमाल करना सुविधाजनक होगा। इसके अलावा इन आवासीय स्कूलों को अपने कब्जे में लेने के लिए सरकार को कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा इसलिए जिला प्रशासनों को इन जगहों को इस्तेमाल करने की पुरी छूट दी जाती है।

Corona virus
Surendra Rajpurohit Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned