अनाधिकृत ई टिकट वेंडर के खिलाफ आरपीएफ की कार्रवाई

छह लोग गिरफ्तार, छह मामले दर्ज
50 से अधिक लाइव टिकट व 10 लाख से अधिक नकदी बरामद

By: Yogesh Sharma

Published: 05 Aug 2020, 07:54 PM IST

बेंगलूरु. दक्षिण पश्चिम रेलवे के बेंगलूरु रेलवे सुरक्षा बल की विशेष टीम ने अनाधिकृत ई टिकट वेंडर्स के खिलाफ बड़े पैमाने पर कार्रवाई की। बल ने बेंगलूरु के पांच इलाकों में छापा मार कार्रवाई कर छह लोगों को गिरफ्तार किया है और छह दुकान संचालकों के खिलाफ मामले दर्ज किए हैं। इनमें से पांच अधिकृत आईआरसीटीसी के एजेंट हैं, जो व्यक्तिगत आईडी के आधार पर टिकट बनाकर लाखों के वारे न्यारे कर रहे थे।
मंडल रेल प्रबंधक अशोक कुमार वर्मा, वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त देवस्मिता चट्टोपाध्याय को लगातार ई टिकट की अनाधिकृत बिक्री की शिकायतें मिल रही थी। इस पर वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त ने शिकायतों का पता लगाने के लिए विशेष टीम बनाई। टीम का नेतृत्व यशवंतपुर के निरीक्षक अखिलेश कुमार तिवारी को सौंपा। टीम में क्राइम इंटेलीजेंस शाखा के निरीक्षक राजेन्द्र दिगम्बर समुद्रे को भी शामिल किया गया। इस टीम में एक उपनिरीक्षक कामराज, हैड कांस्टेबल एम.डी रविकुमार, वी. सुरेश, वी.जयराम, विवेक.बी.आर,के.शरणप्पा को शामिल किया गया।
टीम ने 29 जुलाई से ४ अगस्त तक बेंगलूरु शहर के आनंद राव सर्कल, बिदराहल्ली, कल्याणनगर, हेगनहल्ली, मुत्तलाम्मा, हेन्नूर रोड क्रॉस क्षेत्रों में दुकानों पर छापे मारे। रेलवे अधिनियम की धारा 143 के तहत ई-टिकटों की अनधिकृत बिक्री के छह मामले दर्ज किए। छह लोगों को गिरफ्तार किया गया। अभियान के दौरान ५० से अधिक लाइव ई-टिकट सहित १० लाख रुपए से अधिक नकदी, ई-टिकट और अन्य सामान इनमें कंप्यूटर, प्रिंटर व अन्य उपकरण बरामद किए। बल ने सभी आरोपियों को बाद में जमानत पर रिहा कर दिया।

Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned