कन्नड़ विषय का पर्चा लीक होने की अफवाह

कन्नड़ विषय का पर्चा लीक होने की अफवाह

Santosh Kumar Pandey | Publish: Mar, 17 2019 04:06:12 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

द्वितीय पीयू परीक्षाओं के कन्नड़ विषय का पर्चा लीक होने की अफवाह से शुक्रवार देर रात डिपार्टमेंट ऑफ प्री-यूनिवर्सिर्टी एजुकेशन बोर्ड (डीपीयूइ) के अधिकारियों के बीच अफरा-तफरी मच गई। कई घंटों की मशक्कत के बाद शनिवार अल सुबह कथित तौर पर लीक पर्चे के नकली होने की बात सामने आई। तब जाकर अधिकारियों ने राहत की सांस ली।

रात भर परेशान रहे निदेशक और अधिकारी
बेंगलूरु. द्वितीय पीयू परीक्षाओं के कन्नड़ विषय का पर्चा लीक होने की अफवाह से शुक्रवार देर रात डिपार्टमेंट ऑफ प्री-यूनिवर्सिर्टी एजुकेशन बोर्ड (डीपीयूइ) के अधिकारियों के बीच अफरा-तफरी मच गई। कई घंटों की मशक्कत के बाद शनिवार अल सुबह कथित तौर पर लीक पर्चे के नकली होने की बात सामने आई। तब जाकर अधिकारियों ने राहत की सांस ली।

दरअसल मध्य रात्रि के आसपास केंद्रीय अपराध शाखा (सीसीबी) ने डीपीयूइ के निदेशक पी. सी. जाफर को एक संदेश भेजा, जिसमें कन्नड़ विषय के लीक पर्चे की छवि थी। सीसीबी के सोशल मीडिया सेल को यह पर्चा प्राप्त हुआ था। जिसके बाद डीपीयूइ बोर्ड में हडक़ंप मच गया।
आनन-फानन में डीपीयूई के निदेशक और परीक्षा विभाग के निदेशक दफ्तर पहुंचे। प्रश्न पत्र रखे गए सभी सरकारी ट्रेजरी (राजकोष) के बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया। किसी में भी कोई संदिग्ध गतिविधि की पुष्टि नहीं हुई।
बाद में सुबह करीब तीन बजे मुख्य ट्रेजरी को भी खोला गया। प्रश्न पत्र के सभी बंडल सामान्य थे। मूल प्रश्न पत्र से जब सोशल मीडिया पर वायरल प्रश्न पत्र को मिलाया गया तो बार कोड और क्रमांक संख्या गलत निकली। डीपीयूइ ने लीक प्रश्न पत्र को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज
कराई है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned