कारोबार क्षेत्र के विस्तार से संदलवुड मालामाल

कारोबार क्षेत्र के विस्तार से संदलवुड मालामाल

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Nov, 15 2018 05:32:15 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

पड़ोसी राज्यों की भाषाओं में फिल्मों का प्रदर्शन, कई फिल्में 100 करोड़ की

बेंगलूरु. कारोबार क्षेत्र में विस्तार होने से अब संदलवुड की फिल्में भी 100 करोड़ रुपए का कारोबार कर रही है। पहले कन्नड़ फिल्मों का प्रदर्शन केवल कर्नाटक तक ही सीमित होने से यह फिल्में अधिक कारोबार नहीं कर सकती थीं।

कई कन्नड़ फिल्में कर्नाटक के अलावा तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, केरल समेत कई राज्यों में एक साथ प्रदर्शित हो रही है। संदलवुड की कई बड़े बजट की फिल्में कन्नड़ के साथ-साथ तेलुगु, तमिल, मलयालम तथा हिंदी में एक साथ प्रदर्शित होने से संदलवुड फिल्मों की पहुंच कई गुना बढ़ गई है। एक साथ 1500 से 2500 थिएटर में प्रदर्शित किया जा रहा है।

संदलवुड के मशहूर फिल्म निर्देशक आर.चंद्रू के मुताबिक कन्नड़ फिल्मों को अब पड़ोसी राज्यों में मांग बढऩे के कारण ऐसी फिल्मों के अधिकार इन राज्यों के फिल्म निर्माताओं को ऊंची कीमत पर बेचे जा रहे हैं।

इससे संदलवुड की फिल्मों को अधिक लाभ मिल रहा है। हाल में प्रदर्शित द विलन फिल्म ने सभी राज्यों में अच्छा कारोबार करते हुए बॉक्स ऑफिस कलेक्शन का नया कीर्तिमान स्थापित किया है।

अगले माह प्रदर्शित होने वाली अभिनेता यश की 'केजीएफ' फिल्म कर्नाटक के साथ-साथ आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु में प्रदर्शित होने के साथ-साथ हिंदी में भी प्रदर्शित हो रही है।

इसके अलावा रक्षित शेट्टी की 'अवने श्रीमन नारायणा' फिल्म भी एक साथ तीन भाषाओं में प्रदर्शित की जा रही है। उपेंद्र की 'आई लव यूÓ फिल्म कन्नड़ के साथ-साथ दक्षिण राज्यों के अन्य भाषाओं में एक साथ प्रदर्शित की जा रही है। पड़ोसी राज्यों के फिल्म वितरक अब संदलवुड की फिल्मों के अधिकार खरीदने में अधिक उत्साह दिखा रहे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned