अरब सागर में 9 मछुआरों की तलाश जारी, 3 में से 2 की पहचान

  • तटरक्षक बल ने जिन दो मछुआरों को सुरक्षित बचाया उनके नाम पश्चिम बंगाल के सुनील दास और तमिलनाडु के मुरुगन रामलिंगम बताए गए हैं।

By: Ram Naresh Gautam

Published: 15 Apr 2021, 06:21 PM IST

मेंगलूरु. अरब सागर में मछुआरों की एक नौका और सिंगापुर के कंटेनर शिप के बीच हुई टक्कर में तीन मछुआरों की मौत हो गई और कम से कम 9 मछुआरे लापता हो गए।

तट रक्षक बल के साथ नौसेना को भी खोज और बचाव अभियान में शामिल किया गया है। दो मछुआरों को समुद्र से सुरक्षित बचा लिया गया।

बताया गया है कि आइबीएफ रबाह नामक मछुआरों की नौका 14 सदस्यीय दल के साथ समुद्र में रवाना हुई थी।

मेंगलौर समुद्र तट से पश्चिम में करीब 42 नौटिकल माइल (लगभग 80 किमी) दूर रबाह और एक सिंगापुर के कंटेनर जहाज के बीच 13 अप्रैल की सुबह करीब 2 बजे टक्कर हो गई थी।

रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि गोआ से दो नौसैनिक पोत तिलंचंग और कल्पेनी के अलावा एक टोही विमान को भी तटरक्षक बल के साथ तलाशी और बचाव अभियान में लगाया गया है।

दो मछुआरों को सुरक्षित बचा कर किनारे पहुंचा दिया गया जबकि तीन मछुआरों के शव अब तक बरामद हो चुके हैं।

बाकी 9 लापता मछुआरों की तलाश जारी है। बयान में कहा गया है कि कारवाड़ से एक नौसैनिकपोत आइएनएस सुभद्रा को दो पेशेवर गोताखोरों के दल के साथ इस अभियान में भेजा गया है।

जिन दो मछुआरों के शव मिले हैं, उनकी पहचान पश्चिम बंगाल के माणिक दास और एलेक्जेंडर सायरंग के रूप में हुई है। तीसरे मृतक की अभी पहचान नहीं हुई है।

तटरक्षक बल ने जिन दो मछुआरों को सुरक्षित बचाया उनके नाम पश्चिम बंगाल के सुनील दास और तमिलनाडु के मुरुगन रामलिंगम बताए गए हैं।

बताया गया है कि नौका पर तमिलनाडु के नौ, पश्चिम बंगाल के तीन मछुआरों समेत कुल 14 लोग सवार थे। लापता लोगों की तलाश जारी है।

Show More
Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned