अवकाश पर जाएंगे परिवहन निगम के वरिष्ठ कर्मचारी

कोरोना के खतरे और राजस्व के संकट से निपटने की तैयारी

By: Santosh kumar Pandey

Published: 02 Jul 2020, 07:17 PM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक राज्य सडक़ परिवहन निगम, पूर्वोत्तर सडक़ परिवहन निगम उत्तर पश्चिम परिवहन निगम तथा बीएमटीसी में कार्यरत 50 वर्ष से अधिक उम्र के 10 हजार से अधिक कर्मचारियों को अनिवार्य अवकाश लेने के निर्देश दिए जा रहे हैं।

निगमों के राजस्व में भारी गिरावट
निगम के प्रशासनिक सूत्रों के मुताबिक 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारियों में कोरोना वायरस के संक्रमण होने की संभावना अधिक होने के कारण ऐसे कर्मचारियों को अवकाश पर भेजा जा रहा है। वहीं, अनलॉक के बाद भी निगम के बसों में यात्रियों की संख्या अधिक नहीं होने के कारण निगमों के राजस्व में भारी गिरावट आ रही है।

निगम पर दो-तरफा मार
एक ओर जहां पेट्रोलियम उत्पादों के मूल्यों में हो रही वृद्धि निगम की चिंता बढ़ा रही है वहीं कोरोना संक्रमण के भय से यात्री निगमों की बस में यात्रा करने से कतरा रहे हैं। निगमों के लिए कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करना मुश्किल होता जा रहा है। ऐसी विषम परिस्थिति में निगम ने वरिष्ठ कर्मचारियों को सेवा से दूर रखने का फैसला किया गया है।

200 करोड़ रुपए अनुदान की मांग
निगमों के कर्मचारियों का मासिक वेतन, पेट्रोलियम उत्पादों के बिल के भुगतान के लिए आवश्यक आय नहीं मिलने के कारण हाल में परिवहन मंत्री लक्ष्मण सवदी ने मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा से निगम के लिए 200 करोड़ रुपए अनुदान की मांग रखी है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned