scriptसूखे का छटा साया, दक्षिण-पश्चिम मानसून ने जगाई उम्मीद | Patrika News
बैंगलोर

सूखे का छटा साया, दक्षिण-पश्चिम मानसून ने जगाई उम्मीद

कई इलाकों में अच्छी बारिश से किसानों के चेहरे खिले

बैंगलोरJun 29, 2024 / 02:14 pm

Santosh kumar Pandey

rain

Heavy rains lashed Bengaluru City, in Bengaluru on Friday 8th July 2022

बेंगलूरु. वर्ष 2023 में खराब बारिश के कारण सूखे की गंभीर स्थिति को झेल चुके राज्य के लिए दक्षिण-पश्चिम मानसून अच्छी खबर लेकर आया है। सीजन के सबसे पहले माह जून में अच्छी शुरुआत होने से किसानों की बांछें खिल गई है।
इस माह 1 जून से 28 जून तक के आंकड़े बताते हैं कि इस दौरान राज्य में सामान्य 184.4 मिमी के मुकाबले 184.8 मिमी बारिश हुई है। पिछले साल 1 से 30 जून के बीच कर्नाटक में सामान्य से 53 प्रतिशत कम बारिश हुई थी। तटीय कर्नाटक में यह सामान्य से 50 कम थी, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक के लिए यह आंकड़ा 55 फीसदी था। वहीं दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में 56 प्रतिशत कम बारिश हुई थी।उल्लेखनीय है कि वर्ष 2023 में दक्षिण-पश्चिम मानसून के खराब दौर के कारण राजधानी बेंगलूरु सहित कर्नाटक के कई हिस्सों में जल संकट उत्पन्न हो गया था। बेंगलूरु में वर्ष 2024 की गर्मियों में जल संकट कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। जून 2022 में 19 प्रतिशत कम और जून 2021 में 13 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई थी। हालांकि, इस साल जून में अभी तक बारिश सामान्य रहा है।
सामान्य मानसून की उम्मीद

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक सी. एस. पाटिल के अनुसार इस साल का रिपोर्ट कार्ड न केवल पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में काफी बेहतर है, बल्कि उम्मीद है कि राज्य में बारिश की कमी दूर हो जाएगी। अगले दो दिनों में पर्याप्त बारिश होगी और इस वर्ष सामान्य मानसून की उम्मीद है।

Hindi News/ Bangalore / सूखे का छटा साया, दक्षिण-पश्चिम मानसून ने जगाई उम्मीद

ट्रेंडिंग वीडियो