भाजपा प्रत्याशी के लिए काम करेंगे शंकर

शंकर को विधान परिषद सदस्य और मंत्री बनाने का वादा

बेंगलूरू. पाला बदलने वाले रानीबेन्नूर के पूर्व विधायक को भाजपा ने टिकट तो नहीं दिया है लेकिन विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) और मंत्री बनाने का वादा किया है। मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने शनिवार को कहा कि 17 अयोग्य विधायकों में से एक आर.शंकर जो अब भाजपा में शामिल हो गए हैं, वह पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव में रानीबेन्नूर से पार्टी उम्मीदवार को सफल बनाने के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि 'मैंने शंकर से बात की है जो वर्ष 2018 में विधानसभा चुनाव में रानीबेन्नूर सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में विजयी हुए थे। वह उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार को विजयी बनाने के लिए पार्टी के साथ काम करने के लिए राजी हो गए हैं। मैंने उनसे वादा किया है कि उन्हें विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) और मंत्री बनाया जाएगा।' मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी ने रानीबेन्नूर से अरुण कुमार को उम्मीदवार बनाया है और शंकर उपचुनाव में उनके लिए काम करेंगे।

Rajeev Mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned