शोभायात्रा आज, महामस्तकाभिषेक कल से

शोभायात्रा आज, महामस्तकाभिषेक कल से

Ram Naresh Gautam | Publish: Feb, 16 2018 01:47:46 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

दुल्हन की तरह सजी विंध्यगिरि पहाड़ी

श्रवणबेलगोला. इंतजार की घडिय़ां समाप्त हो गईं। गोम्मटेश्वर भगवान बाहुबली के अभिषेक उत्सव के बहुप्रतीक्षित प्रमुख अनुष्ठान महामस्तकाभिषेक का आरंभ शनिवार से होने जा रहा है। पूर्व संध्या पर शुक्रवार को विंध्यगिरि के आसपास क्षेत्रों में विशाल शोभायात्रा के निकाली जाएगी। जैन मठ का कहना है कि शोभायात्रा पांच किलोमीटर तक लंबी होगी, जिसमें तीर्थंकरों की २४ पालकियों के साथ ही रथ और झांकियां शामिल होगी। गायन, वादन, नृत्य से जुड़े कलाकारों के १५० दल शोभायात्रा की भव्यता में वृद्धि करेंगे। शोभायात्रा दोपहर २ बजे से शुरू होकर देर शाम ८ बजे तक चलेगी।
उधर, जिला प्रशासन के उन प्रयासों को मठ ने सिरे से नकार दिया है, जिसके तहत महामस्तकाभिषेक के दौरान सामान्य श्रद्धालुओं को भी दर्शनों की व्यवस्था की जानी थी। मठ प्रबंधन ने स्पष्ट किया है कि पहले से स्थापित परम्पराओं को जारी रखते हुए महामस्तकाभिषेक के दौरान सिर्फ कलशधारी, संत, साध्वी, आमंत्रित गणमान्य और मीडिया को ही जाने की अनुमति दी जाएगी।


इनके आगमन की संभावनाएं
महोत्सव में शिरकत करने के लिए १९ फरवरी को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन संबंधी जाानकारी मठ प्रबंधन को प्राप्त हो गई है। हालांकि अनुमान के मुताबिक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के पहुंचने के बारे में कोई पुष्टि नहीं हुई। वहीं, राजस्थान एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्रियों के उत्सव में शामिल होने की संभावनाएं जताई जा रही हैं।


12 भाषाओं के 12 गीतों में स्वर-अभिषेक
प्रत्येक बारह वर्ष में होने वाले महोत्सव को समर्पित 12 भाषाओं में 12 गीतों का एलबम पेश किया गया है। इसको बनाया है सर्वेश जैन उनकी पत्नी सौम्या जैन ने। हिन्दी, संस्कृत, प्राकृत, कन्नड़, तमिल, मारवाड़ी, मराठी, तेलुगु, बांग्ला, तुलु, मलयालम और अंग्रेजी भाषाओं में भगवान बाहुबली की महिमा का बखान किया गया है।

कस्बे की सीमा में निजी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध
श्रवणबेलगोला. महामस्तकाभिषेक महोत्सव के उपलक्ष्य में 16 फरवरी से लेकर 26 फरवरी तक निजी वाहनों पर प्रतिबंध होगा। हासन जिला पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार शहापुरवाड़ ने गुरुवार को बताया कि स्थानीय लोगों को 300 वाहन पास वितरित किए हैं, केवल पासधारकों के वाहनों को यहां आवाजाही की अनुमति मिलेगी। श्रवणबेलगोला एक छोटा सा नगर होने के कारण यहां पर सैकड़ों वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था करना संभव नहीं है। इसीलिए प्रतिबंध लगाने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि चन्नरायपट्टण से श्रवणबेलगोला की तरफ आनेवाले वाहनों के लिए राचेनहल्ली गांव के निकट 25 एकड़ विस्तार में वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा हिरीसावे की ओर से आनेवाले वाहनों के लिए होसहल्ली गांव के निकट 25 एकड़ जगह पर पार्किंग की व्यवस्था की गई है। नागमंगला तथा के.आर.पेट की ओर से आनेवाले वाहनों के लिए देगेगौटी गांव के निकट 16 एकड़ भूमि पर वाहन पार्किंग की व्यवस्था की गई है। इन पार्किंग स्थानों से श्रवणबेलगोला पहुंचने के लिए केएसआरटीसी की 50 बसों की व्यवस्था की गई है यह सेवा नि:शुल्क होगी।

Ad Block is Banned