अब करना चाहिए लॉकडाउन: सिध्दरामय्या

कहा, पहले लॉकडाउन का समय गलत था

By: Santosh kumar Pandey

Updated: 26 Jun 2020, 10:39 PM IST

बेंगलूरु. वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिध्दरामय्या ने कहा है कि राज्य में बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए अब लॉकडाउन किया जाना चाहिए।

पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि अब लॉकडाउन की जरूरत है। पहले जब लॉकडाउन किया गया था तो गलत समय पर था। अब जबकि प्रतिदिन कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं, लॉकडाउन लागू किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना के मामले सितम्बर तक बढ़ेंगे।

उन्होंने कहा कि असमय किए गए लॉकडाउन की वजह से राज्य में स्वास्थ्य भी खराब हुआ और आर्थिक नुकसान भी हुई।
उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र व राज्य सरकार कोरोना महामारी से निपटने में पूरी तरह से विफल रहे।

मरीज बढ़ेंगे तो कौन जिम्मेदार होगा
शांतिनगर के विधायक एनए हैरिस ने भी लॉकडाउन लागू करने पर जोर देते हुए कहा कि हम सभी जानते हैं कि अब सामुदायिक संक्रमण शुरू हो चुका है। कोरोना के मरीज बढ़ेंगे तो उसके लिए कौन जिम्मेदार होगा। मुख्यमंत्री कहते हैं कि आर्थिक संकट आएगा लेकिन लोगों की जान से ज्यादा जरूरी तो नहीं है।
बता दें कि मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा है कि राज्य की अर्थ व्यवस्था को सुधारना जरूरी है। राज्य में फिलहाल लॉकडाउन की जरूरत नहीं है।

शुक्रवार को मिले 445 कोरोना संक्रमित
इसी बीच, शुक्रवार को कर्नाटक में 445 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके साथ ही कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 11 हजार के पार हो गई है। कोरोना मरीजों की रफ्तार बढ़ती ही जा रही है। गुरुवार को 442 कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

राज्य में लगातार सबसे ज्यादा मरीज बेंगलूरु में पाए जा रहे हैं। शुक्रवार को बेंगलूरु में 144 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। बेंगलूरु में 123 सहित राज्य में कुल 178 संक्रमित आईसीयू में भर्ती हैं।

COVID-19 virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned