एसएसएलसी पूरक परीक्षा परिणाम : 40.69 फीसदी परीक्षार्थी ही पा सके सफलता

गत वर्ष सफल रहे थे 50.81 प्रतिशत परीक्षार्थी

By: Ram Naresh Gautam

Published: 20 Jul 2018, 08:21 PM IST

ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों ने शहरी क्षेत्र को पीछे छोड़ दिया। ग्रामीण क्षेत्र के 41.58 फीसदी और शहरी क्षेत्र के 39.8 फीसदी विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए

बेंगलूरु. कर्नाटक माध्यमिक शिक्षा परीक्षा बोर्ड (केएसइइबी) ने गुरुवार को प्रदेश बोर्ड 10वीं (एसएसएलसी) पूरक परीक्षा के नतीजे घोषित किए।
परीक्षा में शामिल 13036 स्कूलों के 208151 विद्यार्थियों में से 84701 यानी 40.69 फीसदी ही उत्तीर्ण हो सके। गत वर्ष 50.81 फीसदी विद्यार्थी सफल हुए थे। 45.55 फीसदी छात्रा और 37.93 छात्र सफल हुए। सरकारी स्कूलों का पास प्रतिशत 38.40, अनुदानित स्कूलों का 42.49 और गैर अनुदानित स्कूलों का 42.50 प्रतिशत रहा।

ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों ने एक बार फिर से शहरी क्षेत्र को पीछे छोड़ दिया। ग्रामीण क्षेत्र के 41.58 फीसदी और शहरी क्षेत्र के 39.8 फीसदी विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। बेलगावी 65.56 पहले और धारवाड़ 65.05 प्रतिशत दूसरे स्थान पर रहा। जबकि अंतिम पायदान पर रहने वाले यादगिर के 12.22 फीसदी विद्यार्थी ही उत्तीर्ण हो सके। मंड्या, कलबुर्गी, उत्तर कन्नड़ और चिक्कबल्लापुर जिलों में कुल 16 परीक्षार्थियों को कदाचार के कारण परीक्षा से निकाला गया। इनमें तीन छात्राएं थीं।


महत्वपूर्ण तिथियां
उत्तर पुस्तिकाओं की छाया प्रति के लिए गुरुवार से 28 जुलाई तक और पुनर्मूल्यांकन के लिए 21 जुलाई से चार अगस्त तक आवेदन किया जा सकता है। 673 केंद्रों पर 21 से 28 जून तक परीक्षा का आयोजन हुआ था। 10946 मूल्यांकनकर्ताओं ने मूल्यांकन कार्य किया।

-----

केएसइटी परीक्षा में 4295 उम्मीदवारों को मिली सफलता
बनेंगे सहायक प्रोफेसर
मैसूरु. मैसूरु विवि ने गुरुवार को छठी कर्नाटक राज्य पात्रता परीक्षा (केएसइटी) -2017 परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए। 4295 उम्मीदवारों ने सफलता हासिल की। इन सभी की सहायक प्रोफेसर के रूप में नियुक्ति होगी। विवि के कार्यवाहक कुलपति प्रो. टीके उमेश ने बताया कि 2603 पुरुष व 1692 महिला उम्मीदवार सफल रहे। केंद्रवार परिणामों के हिसाब से बेंगलूरु ने मेंगलूरु और मैसूरु केंद्र को पीछे छोड़ दिया। बेंगलूरु केंद्र के 9.33 फीसदी उम्मीदवार सफलता रहे, जबकि मेंगलूरु के 9.21 और मैसूरु के 7.07 उम्मीदवार सफल रहे। 39 विषयों में 11 नोडल केंद्रों पर 31 दिसंबर को आयोजित इस परीक्षा के लिए पंजीकृत 73608 में से 63068 उम्मीदवार परीक्षा में शामिल हुए।

Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned