कर्नाटक में कोरोना नियंत्रण नियमों का उल्लंघन जारी रहा तो सख्त कदम ही विकल्प : सुधाकर

- सीमावर्ती जिलों में मामले बढऩे से मरीजों की संख्या में उछाल
- सभाओं के लिए कड़े नियम लागू करने के संकेत

By: Nikhil Kumar

Published: 17 Mar 2021, 10:47 AM IST

बेंगलूरु. स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर (Dr. K. Sudhakar) ने कहा कि लोग अगर मास्क व सामाजिक दूरी (mask and social distancing) आदि नियमों का पालन नहीं करेंगे तो प्रदेश सरकार सख्त कदम उठाने पर मजबूर हो जाएगी। पड़ोसी राज्यों व सीमावर्ती जिलों में नए मामले सामने आने से कोविड के मरीजों की संख्या बढ़ी है। सभाओं के लिए कड़े नियम लागू किए जाएंगे। बुधवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के विडियो कॉन्फ्रेंस के बाद इस पर निर्णय लिया जाएगा।

डॉ. सुधाकर ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि मुख्यमंत्री ने सख्ती बरतने के संबंध में स्पष्ट निर्देश दिए हैं। पड़ोसी राज्यों में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कोविड नियंत्रण प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए हैं। नियमों का उल्लंघन जारी रहा तो सरकार के पास सख्त कदम उठाने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचेगा।

उन्होंने कहा कि लोगों को जागरूक करने के लिए सरकार बड़े विज्ञापनों का सहारा लेगी। टीकाकरण (Corona Vaccination) की रफ्तार भी बढ़ाई जाएगी। राज्य में अब तक करीब 15 लाख लोगों का टीकाकरण हुआ है। निजी अस्पतालों को प्रतिदिन न्यूनतम 100 और जनरल अस्पतालों को प्रतिदिन कम-से-कम 500 कोविड नमूने जांचने के लिए कहा गया है। कोविड पॉजिटिव हर मरीज के संपर्क में आए न्यूनतम 20 लोगों को जांचने के निर्देश भी दिए गए हैं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned