बीएमटीसी में विद्यार्थियों के बस पास की प्रक्रिया शुरू

अधिकारी उसे बीएमटीसी के साफ्टवेयर 'स्टूडेंट एचीवमेंट ट्रैकिंग सिस्टम (एसएटीएस)' में विद्यार्थियों से जुड़ी सूचना उपलब्ध कराएंगे

By: Ram Naresh Gautam

Published: 07 Jun 2018, 07:06 PM IST

बेंगलूरु. शैक्षणिक वर्ष 2018-19 के विद्यार्थियों के बेंगलूरु महानगर परिवहन निगम (बीएमटीसी) ने बस पास बनाने की प्रक्रिया शुरू कर
दी है। बीएमटीसी के प्रबंध निदेशक वी. पुन्नूराज ने बताया कि विद्यार्थियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए निगम ने बस पास बनाने की प्रक्रिया बेंगलूरु के सभी बस अड्डों पर शुरू कर दी है।


उन्होंने कहा कि बस पास के लिए शहर के सभी शिक्षण संस्थानों को आवेदन फॉर्म और आवेदन प्रक्रिया से जुड़े दिशा-निर्देश भेज दिया गया है। बस पास के लिए विद्यार्थी को क्षेत्रीय अधिकारी को अपने बारे में सूचना देनी होगी, अधिकारी उसे बीएमटीसी के साफ्टवेयर 'स्टूडेंट एचीवमेंट ट्रैकिंग सिस्टम (एसएटीएस)Ó में विद्यार्थियों से जुड़ी सूचना उपलब्ध कराएंगे और आवेदन फॉर्म पर स्कूल की मोहर लगा आवेदन फॉर्म को विद्यार्थियों को उपलब्ध कराएंगे, जिसको दिखाकर विद्यार्थी बीएमटीसी के किसी भी बस अड्डे से अपना बस पास बनवा सकते हैं।

वहीं पीयूसी द्वितीय वर्ष के छात्र अपने प्रथम वर्ष के बस पास को 30 जून तक उपयोग कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्राथमिक और हाईस्कूल के विद्यार्थी बस पास को 8 जून और पीयूसी प्रथम वर्ष के विद्यार्थी अपने पास को 11 जून से बनवा सकते हैं।

--------------

हिंसा से जुड़े मामलों में कोताही बरतने पर नपेंगे अधिकारी
वृद्ध की हत्या के मामले में पुलिस निरीक्षक निलंबित
बेंगलूरु. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने विपक्ष और हिंदुत्ववादी संगठनों को परोक्ष रूप से चेतावनी देते हुए कहा कि राजनीतिक चमकाने के लिए समाज को तोडऩे वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बुधवार को यहां मंत्रिमंडल के विस्तार व मंत्रिमंडल की औपचारिक बैठक में भाग लेने के बाद कुमारस्वामी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी सरकार ने अविभाजित दक्षिण कन्नड़ जिले में हाल में हुई गायों व बछड़ों को लेकर जाने वाले एक 61 साल के व्यक्ति की हत्या के केस में कार्रवाई की है।

इस संबंध में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि इस केस की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं सर्किल इंस्पेक्टर को सेवा से निलंबित किया गया है और इस घटना में शामिल कुछ युुवकों को गिरफ्तार किया गया है। इस घटना के मद्देनजर तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं तथा हिन्दुत्ववादी संगठन के निगरानी समूह के 3 अन्य को बल्लारी से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य के किसी भी हिस्से में सामाजिक सौहाद्र्र भंग करने की कोशिश करने वाली ताकतों को छोड़ा नहीं जाएगा और उनको कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा, कानूनन गिरफ्तार करके न्यायालय में पेश किया जाएगा।

Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned