विद्यागम शिक्षा कार्यक्रम स्थगित होने से हजारों बच्चे प्रभावित

  • दूरदर्शन पर प्रसारित कक्षाओं पर निर्भर हैं।

By: Nikhil Kumar

Published: 21 Nov 2020, 10:27 PM IST

मैसूरु. विद्यागम शिक्षा कार्यक्रम के अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने के प्रदेश सरकार के निर्णय के बाद सरकारी स्कूल के हजारों बच्चे शिक्षा के लिए अब केवल दूरदर्शन पर प्रसारित कक्षाओं पर निर्भर हैं। आगामी एसएसएलसी परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थी सर्वाधिक प्रभावित हुए हैं। दूसरी ओर निजी स्कूल के विद्यार्थी ऑनलाइन शिक्षा पर निर्भर हैं।

सरकारी स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के अभिभावको के अनुसार विद्यागत शिक्षा कार्यक्रम उन बच्चों के लिए उम्मीद थी जो स्मार्टफोन, लैपटॉप या कम्प्यूटर के अभाव में डीजिटल शिक्षा का लाभ नहीं उठा पा रहे थे। आमने-सामने की पढ़ाई का प्रभाव अलग था। दूरदर्शन पर संचालित कार्यक्रम उतने प्रभावी नहीं हैं।

मैसूरु के अग्रहारा बाजार के एक सब्जी विक्रेता शंकर ने बताया कि उनका बेटा सरकारी हाई स्कूल में 10 वीं कक्षा में पढ़ता है। वह और उसके दोस्त खेलने या टीवी देखने में दिन बिता रहे हैं। विद्यागम कार्यक्रम के अंतर्गत पढ़ाई कर रहे 70 फीसदी विद्यार्थी अब निगरानी से बाहर हैं।

सार्वजनिक शिक्षा विभाग में उप निदेशक पांडुरंगा ने बताया कि शिक्षक एसएसएलसी की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों के लगतार संपर्क में हैं। ऐसा नहीं है कि दूरदर्शन पर प्रसाारित कार्यक्रम से वे संतुष्ट नहीं हैं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned