scriptSWR saved 70 crores by removing generator coaches from 40 trains | दपरे ने 40 ट्रेन से जनरेटर कोच हटाकर बचाए 70 करोड़ | Patrika News

दपरे ने 40 ट्रेन से जनरेटर कोच हटाकर बचाए 70 करोड़

प्रत्येक ट्रेन में दो सवारी कोच जोड़े गए
ध्वनि प्रदूषण और वायु प्रदूषण से मिली मुक्ति

बैंगलोर

Published: January 16, 2022 08:12:51 am

बेंगलूरु. दक्षिण पश्चिम रेलवे(दपरे) ने 40 ट्रेनों से जनरेटर कोच हटाकर 70.12 करोड़ रुपए की डीजल बचत की है। ट्रेनों में जनरेटर कोच हटने से जहां प्लेटफार्म पर होने वाले ध्वनि प्रदूषण से मुक्ति मिली है, वहीं वायु प्रदूषण पर भी रोक लगी है। रेलवे ने प्रत्येक ट्रेन में लगने वाले दो जनरेटर कोच के स्थान पर सवारी कोच लगाए हैं जिससे डेढ़ सौ से अधिक यात्रियों को यात्रा करने का मौका मिलेगा। अब ये 40 ट्रेनों में बिजली आपूर्ति से लेकर वातानुकूलन तक सभी बिजली से संचालित होगा।
दक्षिण पश्चिम रेलवे (दपरे) में एचओजी तकनीक नवम्बर 2019 से शुरू की गई है। अब तक 40 ट्रेनों में हैड ऑन जनरेटर (एचओजी) तकनीक अपनाई जा चुकी है। ये सभी ट्रेन एलएचबी कोच वाली हैं और उन्हें इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन से चलाया जा रहा है।
एयर कंडीशनिंग और प्रकाश व्यवस्था जैसे कोचों की बिजली की जरूरतों को पूरा करने के लिए ट्रेनों में एचओजी तकनीक लागू की जा रही है। पहले दो पावर कारों को एंड ऑन जनरेटर (ईओजी) हाउसिंग डीजल जनरेटर के रूप में जाना जाता था, जो कोचों में एयर कंडीशनिंग और प्रकाश व्यवस्था प्रदान करने के लिए बिजली उत्पन्न करने के लिए ट्रेनों से जुड़ी थीं। एचओजी प्रणाली में, एलएचबी कोचों में बिजली के उपकरणों को बिजली की आपूर्ति एचओजी संगत विद्युत लोकों से ओवर हैड पावर लाइनों को टैप करके की जाती है, जिसके परिणामस्वरूप एचएसडी (हाई स्पीड डीजल) की खपत में भारी कमी आती है। एचएसडी में बचत के अलावा, डीजी सेट के संचालन के कारण शोर एचओजी प्रणाली में पूरी तरह से समाप्त हो गया है। दपरे में विद्युतीकरण की गति तेज होने के कारण भविष्य में अधिक से अधिक ट्रेनें एचओजी सिस्टम से चलाई जाएंगी। पावर कोच के स्थान पर ट्रेनों में अतिरिक्त कोच लगाए जा सकते हैं और यात्रियों के लिए प्रतिदिन अतिरिक्त बर्थ उपलब्ध होगी।
दक्षिण पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक संजीव किशोर ने बताया कि वर्तमान में 40 ट्रेनें एचओजी सिस्टम के साथ चल रही हैं। एचओजी ट्रेनों का उपयोग कर बिजली कारों में एचएसडी (हाई स्पीड डीजल) की खपत में कमी के कारण अनुमानित बचत, अकेले दिसम्बर 2021 के महीने के लिए हैं।
दपरे ने अब तक जिन ट्रेनों को एचओजी तकनीक में बदला है उनमें ट्रेन संख्या 12028/27 केएसआर बेंगलूरु-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-केएसआर बेंगलुरु शताब्दी एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12608/07 केएसआर बेंगलूरु-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-केएसआर बेंगलूरु लालबाग एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12609/10 एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-मैसूरु-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12253/54 यशवंतपुर-भागलपुर-यशवंतपुर अंगा एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 16526/25 केएसआर बेंगलूरु-कन्याकुमारी- केएसआर बेंगलूरु द्वीप एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 16593/94 केएसआर बेंगलूरु-नांदेड़-केएसआर बेंगलूरु एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 22691/92 केएसआर बेंगलूरु-हजरत निजामुद्दीन-केएसआर बेंगलूरु राजधानी एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12213/14 केएसआर बेंगलूरु-दिल्ली सराय रोहिल्ला -केएसआर बेंगलुरु एसी दूरंतो एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 22677/78 यशवंतपुर-कोचुवेली-यशवंतपुर सुपरफास्ट एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12295/96 केएसआर बेंगलूरु-दानापुर-केएसआर बेंगलूरु संघमित्र एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 16583/84 यशवंतपुर-लातूर-यशवंतपुर एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 16571/72 यशवंतपुर-बीदर-यशवंतपुर एक्सप्रेस,ख् ट्रेन संख्या 12627/28 केएसआर बेंगलूरु-नई दिल्ली-केएसआर बेंगलूरु कर्नाटक एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12658/57 केएसआर बेंगलूरु-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-केएसआर बेंगलूरु मेल, ट्रेन संख्या 16547/48 केएसआर बेंगलूरु-दानापुर-केएसआर बेंगलूरु क्लोन एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12291/92 यशवंतपुर-एमजीआर चेन्नई सेंट्रल-यशवंतपुर एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 16502/01 यशवंतपुर-अहमदाबाद-यशवंतपुर एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12251/52 यशवंतपुर-कोरबा-यशवंतपुर एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12539/40 यशवंतपुर-लखनऊ-यशवंतपुर एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 16565/66 यशवंतपुर-मेंगलूरु सेंट्रल-यशवंतपुर एक्सप्रेस शामिल हैं।
दपरे ने 40 ट्रेन से जनरेटर कोच हटाकर बचाए 70 करोड़
दपरे ने 40 ट्रेन से जनरेटर कोच हटाकर बचाए 70 करोड़

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

30 साल बाद फ्रांस को फिर से मिली महिला पीएम, राष्ट्रपति मैक्रों ने श्रम मंत्री एलिजाबेथ बोर्न को नया पीएम किया नियुक्तदिल्ली में जारी आग का तांडव! मुंडका के बाद नरेला की चप्पल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर पहुंची 9 दमकल गाडि़यांबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनSri Lanka में अब तक का सबसे बड़ा संकट, केवल एक दिन का बचा है पेट्रोलIAS अधिकारी ने भारत की थॉमस कप जीत पर मच्छर रोधी रैकेट की शेयर की तस्वीर, क्रिकेटर ने लगाई फटकार - 'ये तो है सरासर अपमान'ताजमहल के बंद 22 कमरों का खुल गया सीक्रेट, ASI ने फोटो जारी करते हुए बताई गंभीर बातेंकर्नाटक: हथियारों के साथ बजरंग दल कार्यकर्ताओं के ट्रेनिंग कैम्प की फोटोज वायरल, कांग्रेस ने उठाए सवालPM Modi Nepal Visit : नेपाल के बिना हमारे राम भी अधूरे हैं, नेपाल दौरे पर बोले पीएम मोदी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.