प्रदेश में 1.25 करोड़ नए कांग्रेस कार्यकर्ता बनाने का लक्ष्य : दिनेश

प्रदेश में 1.25 करोड़ नए कांग्रेस कार्यकर्ता बनाने का लक्ष्य : दिनेश

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 09 2018 05:40:12 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

हर एक बूथ से कम से कम 25 लोगों को सदस्य बनाया जाएगा।

बेंगलूरु. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव ने कहा कि प्रदेश भर में शनिवार से सदस्यता अभियान आरंभ किया गया और प्रदेश में 1.25 करोड़ नए कार्यकर्ता बनाने का लक्ष्य है। उन्होंने शनिवार को पुलकेशी नगर विधानसभा क्षेत्र के कावलबैरसन्द्रा में 'शक्ति अभियानÓ के तहत सदस्यता अभिनान का उद्घाटचन करते हुए कहा कि प्रदेश में करीब 56 हजार बूथ हैं। हर एक बूथ से कम से कम 25 लोगों को सदस्य बनाया जाएगा। पुलकेशी नगर विधानसभा क्षेत्र से 50 हजार से अधिक सदस्य बनाए जाएंगे।

कांग्रेस पार्टी ने मोबाइल फोन का नंबर जारी किया गया है, जिस पर मतदाता पहचान कार्ड नंबर के साथ संदेश भेजने पर वह कांग्रेस अध्यक्ष तक जाएगा। संदेश भेजने वाले को मोबाइल पर राहुल गांधी के भाषण, उनके कार्यक्रम तथा अन्य विवरण नियमित तौर पर मिलेंगे। राहुल गांधी से सीधे मुलाकत का भी अवसर मिलेगा। दिनेश ने कहा कि जिस बूथ से सबसे अधिक सदस्यों की संख्या अधिक होगी। उस बूथ के प्रमुख को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

इस अवसर पर विधायक अखंड श्रीनिवासमूर्ति ने कहा कि देश भर में सदस्यता अभिनाय को सफल बनाकर कार्यकर्ताओं की संख्या बढ़ाने की जरूरत है। देश के विकास और जनता की खुशहाली के लिए कांग्रेस को फिर से सत्ता में लाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार से सभी लोग निराश हैं। महापौर संपतराज, पार्षद सैयद जाकिर, साजिदा बेगम, एन. नागराज और अन्य पदाधिकारी, कार्यकर्ता उपस्थित थे।


सत्ता से दूर रखने के लिए हुए नगर निकाय आरक्षण सूची में बदलाव
बेंगलूरु. प्रदेश भाजपा इकाई ने दावा किया है कि नगर निकाय की आरक्षण सूची में बदलाव किया जाना पार्टी को सत्ता से दूर करने की साजिश है। 25 से अधिक नगर निकाय में अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष पदों के लिए आरक्षण सूची में बदलाव किया गया। प्रदेश भाजपा के महामंत्री एन. रविकुमार ने कहा कि शनिवार को कहा कि राज्य सरकार आरक्षण सूची में परिवर्तन करना जनादेश का अपमान है। अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष के आरक्षण सूची में बदलाव के कारण राज्य की 20 से 25 नगर निकाय में भाजपा के पास बहुमत होने के बावजूद सत्ता से दूर रखने की स्थिति बनी है। अगर सरकार यह फैसला नहीं बदलती है तो राज्य व्यापी प्रदर्शन किया जाएगा।


शिक्षकों को नहीं मिल रहा वेतन
उन्होंने कहा कि प्रदेश के 12 हजार से अधिक सरकारी प्राथमिक तथा माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों को गत 6 माह से मासिक वेतन का भुगतान नहीं किया गया है। जो कुप्रशासन की मिसाल है। इस मामले पर मंत्री तथा अधिकारियों ने चुप्पी नहीं तोड़ी है। उन्होंने कहा कि गठबंधन दलों के नेताओं ने एयर शो बेंगलूरु से लखनऊ स्थानांतरित होने का भ्रम फैलाकर केंद्र सरकार को बदनाम करने का प्रयास किया। अब स्थिति स्पष्ट है बेंगलूरु में ही एयर शो हो रहा है। हम इसके लिए प्रधानमंत्री तथा रक्षा मंत्री को बधाई देते हैं।

Ad Block is Banned