scriptTechnical advisory committee not in favor of removing masks | मास्क हटाने के पक्ष में नहीं तकनीकी सलाहकार समिति | Patrika News

मास्क हटाने के पक्ष में नहीं तकनीकी सलाहकार समिति

  • कोविड तकनीकी सलाहकार समिति के अध्यक्ष डॉ. एम. के. सुदर्शन के अनुसार जब तक सरकार देश को कोरोना मुक्त घोषित नहीं करती है या मास्क की अनिवार्यता समाप्त नहीं करती है, तब तक मास्क पहनना अनिवार्य होना चाहिए

बैंगलोर

Updated: April 02, 2022 11:47:49 am

बेंगलूरु. महाराष्ट्र की तर्ज पर कर्नाटक सरकार भी मास्क की अनिवार्यता हटाने पर विचार कर रही है। लेकिन, ऐसे किसी निर्णय से पहले सरकार कोविड-19 तकनीकी सलाहकार समिति से परामर्श लेगी। हालांकि, समिति इसके पक्ष में नहीं है। समिति के सदस्यों के अनुसार संक्रमण के जोखिम वाले वर्ग को बचाए रखना जरूरी है।

मास्क हटाने के पक्ष में नहीं तकनीकी सलाहकार समिति

कोविड तकनीकी सलाहकार समिति के अध्यक्ष डॉ. एम. के. सुदर्शन के अनुसार जब तक सरकार देश को कोरोना मुक्त घोषित नहीं करती है या मास्क की अनिवार्यता समाप्त नहीं करती है, तब तक मास्क पहनना अनिवार्य होना चाहिए। मौजूदा स्थिति को देखकर कह सकते हैं कि बिना लक्षण वाले लोगों से कोरोना वायरस संक्रमण नहीं फैल रहा है। पहले से बीमार, बुजुर्ग और कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वालों लोगों के संक्रमित होने का सर्वाधिक खतरा है। ऐसे लोगों को संक्रमण से बचाए रखने के लिए सभी का मास्क पहनना जरूरी है। फिलहाल, कोविड के लक्षण वाले लोगों की ही जांच हो रही है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य राज्य का विषय है और स्थानीय स्थिति के अनुसार राज्य सरकारें निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं। स्वास्थ्य आयुक्त डी. रणदीप ने कहा कि मास्क छोड़कर कर आपदा प्रबंधन अधिनियम संबंधित सभी नियमों से लोगों को राहत दी गई है। मास्क और सामाजिक दूरी का पालन केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों में है और इसे वापस नहीं लिया गया है।

62 नए मरीज, कोई मौत नहीं
बेंगलूरु. कोरोना की तीसरी लहर के दस्तक देने के बाद से शुक्रवार को ऐसा पहला मौका आया जब राज्य में कोविड के कारण कोई मौत नहीं हुई।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार राज्य में बीते 24 घंटे में कोविड के 62 नए मरीज मिले और 70 लोग संक्रमण मुक्त हुए। अब तक संक्रमित कुल 39,45,576 लोगों में से 39,03,919 लोगों ने कोरोना वायरस को मात दी है। कोविड से कुल 40,054 मौतें हुई हैं। 1,561 एक्टिव मामले हैं। राज्य में शुक्रवार को पॉजिटिविटी दर 0.29 फीसदी और केस फेटालिटी दर शून्य रही।

62 में से 48 मामले बेंगलूरु शहर में सामने आए हैं। शहर में 1,434 एक्टिव मामले हैं और कोविड से कुल 16,960 मरीजों की मौत हुई है। हालांकि, बीते दो दिन में शहर में कोविड से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई है।

कोलार जिले में चार, रामनगर जिले में तीन और चित्रदुर्ग में दो नए मरीजों की पुष्टि हुई।

स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार शाम 3.30 बजे तक 12-14 साल के 66,541 बच्चों सहित कुल 91,724 लोगों का टीकाकरण किया। कोविड के कुल 21,295 सैंपल जांचे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

कोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्टहरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का सायाWeather Update: उत्तर भारत में भीषण गर्मी, इन राज्यों में आंधी और बारिश की अलर्टLucknow: क्या बदलने वाला है प्रदेश की राजधानी का नाम? CM योगी के ट्वीट से मिले संकेतजमैका के दौरे पर गए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने क्यों की सलवार-कुर्ता की चर्चा, जानिए इस टूर में और क्या-क्या हुआबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनगेहूं के निर्यात पर बैन पर भारत के समर्थन में आया चीन, G7 देशों को दिया करारा जवाब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.