कर्नाटक को 2 टीएमसी पानी देगा तेलंगाना

कर्नाटक को दो टीएमसी पानी देगा तेलंगाना

 

हैदराबाद.बेंगलूरु. तुंगभद्रा नदी क्षेत्र में पानी की कमी की समस्या से निपटने के लिए तेलंगाना पड़ोसी कर्नाटक को 2 टीएमसी पानी देने को तैयार हो गया है।
कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री एम बी पाटिल ने हैदराबाद में गुरुवार को तेलंगाना के अपने समकक्ष टी हरीश राव से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह जानकारी दी। पाटिल ने राव से मानवीय आधार पर 3.5 टीएमसी पानी छोडऩे की मांग की थी। पाटिल ने कहा कि राव ने तेलंगाना में 7500 एकड़ में खड़ी फसलों की सिंचाई के लिए 1.5 टीएमसी पानी की आवश्यकता बताते हुए इतनी मात्रा में पानी छोडऩे में असमर्थता जताई। हालांकि, राव ने पाटिल को सिंचाई के बाद बची 1.5 से 2 टीएमसी पानी देने का भरोसा दिया।
कृष्णा नदी जल बंटवारा पंचाट के फैसले के मुताबिक नदी सहायता कोटा के तहत तेलंगाना की हिस्सेदारी 3.5 टीएमसी पानी की है लेकिन तुंगभद्रा नदी की निचली धारा के जलग्रहण क्षेत्र में अच्छी बारिश होने के कारण तेलंगाना इस पानी का उपयोग नहीं करता है।
पाटिल ने कहा कि राज्य के तुंगभ्रदा क्षेत्र में इस साल कम बारिश होने के कारण तुंगभद्रा बांध में सिर्फ 123 टीएमसी पानी है। वाष्पीकरण के कारण 9 टीएमसी पानी के नुकसान के आकलन के बाद इस वर्ष उपयोग के लिए सिर्फ 114 टीएमसी पानी ही उपलब्ध होगा।
पाटिल ने कहा कि पिछले साल तेलंगाना सरकार के आग्रह पर कर्नाटक ने नारायणपुर बांध से एक टीएमसी पानी मानवीय आधार पर महबूबनगर की पेयजल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए दिया था। इस साल भी तेलंगाना के आग्रह पर पानी दिया गया है।
तेलंगाना को परस्पर प्रतिपूर्ति का भरोसा देते हुए पाटिल ने कहा कि जब भी जरुरत होगी कर्नाटक उसे पानी उपलब्ध कराएगा। पाटिल ने इसे पेयजल के लिए पारस्परिक संबंध बताते हुए कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो इस बार भी कर्नाटक अलमाती और नारायणपुर बांध से तेलंगाना को एक या दो टीएमसी पानी उपलब्ध कराएगा।

कुमार जीवेन्द्र झा Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned