चामुंडी पहाड़ी पर भीड़ को टालने का प्रयास

आषाढ़ माह के चार शुक्रवार को चामुंडी पहाड़ी पर श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक

By: Sanjay Kulkarni

Published: 17 Jun 2020, 11:29 AM IST

मैसूरु. कोरोना वायरस के संक्रमण के परिप्रेक्ष्य मेंं चामुंडी पहाड़ी पर भीड़ जुटने से रोकने के लिए आषाढ़ माह के चार शुक्रवार 26 जून, 3 जुलाई, 10 जुलाई तथा 17 जुलाई को चामुंडी पहाड़ी पर श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी है।चामुंडेश्वरी मंदिर की प्रबंधन समिति के अनुसार इन चारों दिनों में पहाड़ी की संपर्क सड़क पर वाहनों की आवाजाही पर भी प्रतिबंध रहेगा।हालांकि अन्य दिनों में मंदिर के कपाट खुले रहेंगे। लेकिन श्रद्धालुओं की संख्या अधिक होने पर सामाजिक दूरी का पालन करना संभव नहीं हुआ तो प्रबंधन मंदिर के कपाट बंद कर सकता है।

उल्लेखनीय है कि आषाढ़ माह में चामुंडेश्वरी देवी के मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़़ उमड़ती है। इस दौरान श्रद्धालुओं के लिए अतिरिक्त बस सेवा भी उपलब्ध रहती है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण के मद्देनजर मंदिर के प्रबंधन ने यहां पर अधिक भीड़ इकट्ठी न हो इसलिए यह फैसला लिया है।

महापौर ने किया जैविक खाद उत्पाद इकाई का निरीक्षण

बेंगलूरु. बोम्मनहल्ली संभाग में इलेक्ट्रानिक सिटी इंडस्ट्रियल टाउनशिप अथॉरिटी (ईएलसीआईटीए) की ओर से केवल 24 घंटे में गीले हरे कचरे को जैविक खाद में परिवर्तित करने वाला संयंत्र तथा कमांड कंट्रोल सेंटर का महापौर गौतम कुमार ने निरीक्षण किया।

उन्होंने अधिकारियों को शहर के ऐसे वार्ड जहां पर बड़े पैमाने पर हरा गीला कचरा संग्रहित होता है, वहां भी संयंत्र स्थापित करने के निर्देश दिए हैं। आमतौर पर गीले कचरे से जैविक खाद बनने के लिए लगभग 1 माह का समय लगता है।लेकिन ईएलसीआईटीए द्वारा विकसित इस संयंत्र में हरा गीला कचरा केवल 24 घंटों में जैविक खाद में परिवर्तित होता है। ईएलसीआईटीए ने 50 किलो से लेकर 5 टन क्षमता के संयंत्र तैयार किए है।

महापौर ने बीबीएमपी के वरिष्ठ अधिकारियों को ऐसा नियंत्रण कक्ष शहर के सभी 198 वार्डों में स्थापित करने को कहा है। स्थानीय विधायक सतीश रेड्डी, उपमहापौर राममोहन राज, ईएलसीआईटीए की मुख्य कार्यकारी अधिकारी रमा, तथा बीबीएमपी के स्थानीय अधिकारी उपस्थित थे।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned