दहेज के लिए युवती को जिंदा जलाया

  • कुछ महीने पहले ही हुई थी शादी

By: Santosh kumar Pandey

Published: 19 Mar 2021, 05:31 PM IST

बेंगलूरु. बेंगलूरु ग्रामीण जिले के सूलिबेले गांव में दहेज के लिए एक युवती को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। पुलिस के अनुसार कोलार जिले क्यालनूर निवासी एस.फयाज अहमद की पुत्री इजहार बेगम (22) का निकाह गत वर्ष नवंबर 2020 में सूलिबेले के युवक शहाबुद्दीन (25) से हुआ था। शहाबुद्दीन फलों का व्यापारी है। उसे दहेज में नकद राशि, स्कूटर, आभूषण. फर्नीचर और अन्य कीमती चीजें दी गई थीं।

आरोप है कि फिर भी शहाबुद्दीन पत्नी की पिटाई कर मायके से नकद राशि लाने की मांग करता था। फयाज दामाद की फरमाइश को पूरा नहीं कर सका। क्योंकि वह पुत्री की शादी के लिए कई लोगों से कर्ज ले चुका था।

शहाबुद्दीन ने बुधवार को फिर रुपए की मांग की। आरोप है कि जब इजहार बेगम ने मायके जाने से इनकार किया तो उस पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। इजहार बेगम ने सहायता के लिए शोर मचाया। पडोसी लोग उसकी सहायता कर अस्पताल ले गए, लेकिन बीच मार्ग में उसने दम तोड़ दिया।

फयाज की शिकायत पर पुलिस मामला दर्ज कर शहाबुद्दीन, उसकी मां यास्मीन, पिता अल्ला बख्श, बहन सुमेरा ताज, बहनोई शोएब, देवर निजाम, सद्दाम और ग्राम पंचायत विकास अधिकारी डी.एस. महबूब के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ और हत्या का मामला दर्ज कर उन्हें तलाश कर रही है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned