दूसरे दिन भी हुई जम्बो सवारी के आखिरी चरण की रिहर्सल

  • अभिमन्यु ने उठाया 750 किलो का हौदा
  • फाइनल रिहर्सल शनिवार को

By: Santosh kumar Pandey

Published: 23 Oct 2020, 06:08 PM IST

मैसूरु. प्रसिध्द मैसूरु दशहरा महोत्सव के दौरान जम्बो सवारी जुलूस में अब कुछ ही दिनों का फासला है। 26 अक्टूबर को पांच हाथियों का जुलूस स्वर्ण हौदा लेकर महल परिसर में ही जुलूस की रस्म अदायगी करेगा। जुलूस के लिए आखिरी चरण की पहली रिहर्सल शुक्रवार को भी हुई। मैसूर पैलेस के विशाल पथ पर गुरुवार को राजसी ठाट के साथ हाथियों का जुलूस निकला। दशहरा महोत्सव की तैयारियों के तहत किए गए इस रूट रिहर्सल में हाथियों का नेतृत्व स्वर्ण हौदा ढोनेवाले हाथी अभिमन्यु ने किया। पांच सौ मीटर की दूरी हाथियों ने थोड़ी देर में पूरी कर ली। शनिवार को आखिरी रिहर्सल होगी।

बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण इस बार महोत्सव सादगी से मनाने का निर्णय किया गया है। जुलूस में पांच हाथी और माउंटेड पुलिस के 30 अश्वारोही जवान भाग लेंगे।

महल परिसर में विशाल मंच तैयार

महल परिसर में विशाल मंच तैयार किया गया है जहां से अभिमन्यु पर स्वर्ण हौदा लादा जाएगा। इसी मंच से गणमान्य व्यक्ति हाथियों पर पुष्प वर्षा करेंगे। गुरुवार को अभिमन्यु, विजया व कावेरी को मंच के पास ले जाया गया जहां चन्नपट्टना पुलिस प्रशिक्षण स्कूल के पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र, ड़ॉ. डीएन नागराज, महल के सहायक पुलिस आयुक्त एचएम चंद्रशेखर ने हाथियों पर पुष्पवर्षा की।

सभी हाथी हष्ट-पुष्ट
हाथियों के स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे पशु चिकित्सक डॉ. डीएन नागराज के अनुसार सभी हाथी स्वस्थ और हष्ट-पुष्ट हैं और दशहरा महोत्सव में भाग लेने के लिए तैयार हैं।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned