शिक्षकों ने यह क्या किया, परीक्षा में थमा दिए पुराने प्रश्न पत्र

पुराने प्रश्न पत्र देने पर दो शिक्षक निलंबित

By: Santosh kumar Pandey

Published: 04 Jul 2020, 05:47 PM IST

बेेंंगलूरु. विजयपुर जिले में दरबार हाई स्कूल परीक्षा केन्द्र में पुराने प्रश्न पत्र देने पर दो शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया।

सार्वजनिक शिक्षा विभाग के उप निदेशक सी.प्रसन्न कुमार ने बताया कि केबीएस सरकारी प्राथमिक स्कूल के शिक्षक एस.एम.हिरेमठ को परीक्षा केन्द्र का पर्यवेक्षक बनाया गया था। इसी स्कूल के आर.अवरसन को सहायक पर्र्यवक्षेक के तौर नियुक्त किया गया था।

अनुशासनात्मक कार्रवाई का आदेश

परीक्षा कक्ष में पर्यवेक्षक निजी स्कूल के शिक्षक जी.आर.हत्तारकी, एस.बी.सोलापुर, परीक्षा के मुख्य अधीक्षक बी.एम.चौधरी, प्रश्नपत्र वितरित करने वाले ए.जी.लिंगावल्ली के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने निजी स्कूल के प्रशासन बोर्ड को पत्र लिखा है।

उन्होंने कहा कि बुधवार को सही प्रश्न पत्र देकर फिर से परीक्षा कराने पर चार घंटे बर्बाद हुए। हिरेमठ और अवरसन ने छात्रों को सोशल साइन्स के विषय के पुराने प्रश्न पत्र दिए थे। स्कूल में पुराना प्रश्न पत्र का बन्डल रखा गया था। शिक्षकों ने इसी बंडल के प्रश्न पत्र छात्रों को देकर बड़ी गलती की।

पाठ्य-पुस्तकों में नहीं थे ऐसे प्रश्न पत्र

छात्रों ने इस तरह के प्रश्नों को पाठ्य पुस्तकों में ही नहीं देखा था। इस गलती पर छात्रों के अभिभावकों ने नाराजगी जताई और इस गलती के लिए शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। इसी कारण दोनों शिक्षकों को निलंबित किया गया।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned