दुनिया को महकाती भारतीय अगरबत्ती का निर्यात बुलंदियों पर

मौजूदा वित्त वर्ष में अगरबत्ती निर्यात 1000 करोड़ के पार पहुंचने की संभावना

By: Ram Naresh Gautam

Published: 07 Jun 2018, 06:33 PM IST

बेंगलूरु. भारत निर्मित अगरबत्ती दुनिया के कई देशों में देश की पहचान बन चुकी है। भारतीय अगरबत्ती से न सिर्फ दुनिया सुवासित हो रही है, बल्कि इसका निर्यात का आंकड़ा भी उसी तेजी से बढ़ते हुए एक हजार करोड़ रुपए को छूने की तैयारी में है। भरतीय अगरबत्ती की दुनिया में बढ़ती मांग को देखते हुए इस वित्त वर्ष की समाप्ति तक निर्यात का आंकड़ा एक हजार करोड़ रुपए का पार करने की संभावना है। भारतीय अगरबत्ती उïद्योग निर्यात के अंाकड़ों के अनुसार वर्ष 2015-16 में 798 करोड़ रुपए का निर्यात हुआ था, जो वर्ष 2017-18 में बढ़कर 965 करोड़ रुपए पहुंच गया और इस वर्ष भी पूरी दुनिया में इसकी मांग बढ़ी है।

अखिल भारतीय अगरबत्ती विनिर्माता संघ के अध्यक्ष शरत बाबू ने बुधवार को कहा कि भारतीय अगरबत्ती उद्योग सबसे जीवंत कुटीर उद्योगों में से एक है, जो देश में 20 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार प्रदान कर रहा है। पिछले चार वर्षों में अगरबत्ती निर्यात उद्योग 15 प्रतिशत की वार्षिक दर से बढ़ा है और अगले पांच वर्षों में यह निर्यात का आंकड़ा 12,000 करोड़ रुपए तक पहुंचने की उम्मीद है। वहीं देश में घरेलू स्तर पर फिलहाल करीब 7000 करोड़ रुपए का सालाना अगरबत्ती कारोबार है, जिसमें तमिलनाडु, महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल सर्वाधिक अगरबत्ती मांग वाले राज्य हैं।

 

हर बाजार की अलग मांग
भारतीय अगरबत्ती का प्रमुख बाजार खाड़ी देश, यूरोप और अफ्रीका है। माना जाता है कि इन देशों में हाल के समय में ध्यान की परंपरा बढ़ी है और ध्यान के दौरान सुगंधित वातावरण बनाए रखने के लिए लोग बड़े स्तर पर अगरबत्ती का प्रयोग करते हैं। इसी वजह से भारतीय अगरबत्ती की मांग भी विदेशों में बढ़ी है। खाड़ी देशों में जहां तेज खुशबू वाली अगरबत्ती की मांग ज्यादा है, वहीं यूरोपीय देशों में फलों की खुशबू और हल्के फूलों की खुशबू वाली अगरबत्ती की मांग है। अफ्रीकी देशों में लेमनग्रास और सिट्रोनेला ग्रास जैसी तेज खुशबू वाली अगरबत्ती की मांग है। इनके विपरीत भारतीय बाजार में चंदन, गुलाब, मोगरा, चम्पा और चमेली की खुशबू ज्यादा पसंद की जाती है।

Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned