scriptThere is attachment in Mamta, not happiness - Sadhvi Bhavyagunashree | ममता में मोह है सुख नहीं-साध्वी भव्यगुणाश्री | Patrika News

ममता में मोह है सुख नहीं-साध्वी भव्यगुणाश्री

हनुमंतनगर में धर्मसभा का आयोजन

बैंगलोर

Published: May 22, 2022 07:37:21 am

बेंगलूरु. हनुमंतनगर में विराजित साध्वी भव्यगुणाश्री व साध्वी शीतलगुणाश्री ने कहा कि सुख का कारण समता है ममता नहीं। ममता में मोह है सुख नहीं। आप ममता में उलझ रहे हैं या समता का अभ्यास कर रहे हैं जरा भीतर झांक कर देखने का प्रयास करें। साध्वी भव्यगुणाश्री ने कहा कि जब हम किसी की बेवजह निंदा करते हैं, तो हमें उसके पाप का बोझ भी उठाना पड़ता है तथा हमें अपने किए गए, कर्मों का फल तो भुगतना ही पड़ता है। अब चाहे हंस के भुगतें या रोकर, हम जैसा किसी को देंगे, वैसा ही लौटकर वापस आएगा। सदैव अच्छे कर्म करें और किसी की निंदा से बचें। साधू की सेवा व संगत करें, सत्संग सुनें और सत्संग में फरमाए गए वचनों को अपने हृदय में बिठाएं। किसी की यूं ही निंदा करके अपने कर्मों को मत बढ़ाइए। दुनिया में जो करता है, उसे उसका फल जरूर मिलता है। इसलिए हम अपने आपको देखें, अपने अंदर झांके ना कि दूसरों की निदा करें, चुगली करें।
अगर हम किसी की निंदा चुगली करने से नहीं हटते हैं, तो हमारे कर्मों का ढेर भी बढ़ता जाएगा। इसलिए अच्छे कर्म करें, अच्छे कर्म करना ही जीव का कर्तव्य है और इसी से जीवन सफल हो सकता है। साध्वी शीतलगुणाश्री ने कहा कि मनुष्य की सुंदरता की पहचान उनके रूप, चलन व बात करने के तरीके से नहीं, बल्कि,उनके स्नेह, परवाह और योगदान से होती है। उन्होंने कहा कि कोई व्यक्ति हमें शारीरिक अथवा मानसिक कष्ट देता है तो उसका प्रतिकार न करें, यदि हम शांति से इसे अपना कर्मोदय मानकर सहन कर लेते हैं तो वह व्यक्ति हमारे कर्म काटने के लिए साधन बन गया। अर्थात वह हमारा बुरा करना चाहता था तो भी हमारे कर्म कटने से हमारा भला ही हुआ। किन्तु बुरा करने वाले उस व्यक्ति को हमारे द्वारा कुछ भी प्राप्त नहीं हुआ, प्रतिकार भी नहीं। विहार सेवा में गौतमचंद लूणिया, गौतमचंद छाजेड़, प्रकाशकुमार चोपड़ा, नरेन्द्र भंडारी, सुरेंद्र भंडारी, निकेश भंडारी, किशोर बाफना, हनुमंतनगर विहार सेवा ग्रुप, कमलाबाई भंडारी, रंजना भंडारी,आरती भंडारी, कोमल भंडारी ने भाग लिया। गौतमचंद लूणिया ने बताया कि साध्वी सोमवार को त्यागराजनगर पहुंचेंगी।
ममता में मोह है सुख नहीं-साध्वी भव्यगुणाश्री
ममता में मोह है सुख नहीं-साध्वी भव्यगुणाश्री

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

मनीष सिसोदिया का BJP पर निशाना, कहा - 'रेवड़ी बोलकर मजाक उड़ाने वाले चला रहे दोस्तवादी मॉडल'सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद बोले तेजस्वी यादव- 'नीतीश जी का हमसे हाथ मिलाना BJP के मुंह पर तमाचे की तरह''स्मोक वार्निंग' के कारण मालदीव जा रही 'गो फर्स्ट' की फ्लाइट की हुई कोयंबटूर में इमरजेंसी लैंडिंगHimachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो किसानों का तीन लाख तक का कर्ज होगा माफ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.