उडुपी को आने के लिए तैयार 1 लाख लोग

विभिन्न राज्यों से उडुपी आने के लिए 1 लाख से अधिक लोग बेसब्री से इंतजार कर रहें है।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 05 May 2020, 09:23 AM IST

उडुपी.लॉकडाउन में छुट के बाद विभिन्न देश, विभिन्न राज्यों से उडुपी आने के लिए 1 लाख से अधिक लोग बेसब्री से इंतजार कर रहें है। लेकिन इतनी बड़ी संख्या में आनेवाले लोगों को क्वारंटाइन करना जिला प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है।

जिला प्रशासन के सूत्रों के अनुसार अभी यहां पर केवल 1 हजार लोगों को क्वारंटाइन करने की व्यवस्था है। भविष्य में यहां पर बडी तादात में आनेवाले लोगों को क्वारंटाइन करने के लिए विभिन्न भवनों का चिन्हित किया जा रहा है। जिला प्रशासन के मुताबिक 29 जनवरी से अभी तक उडुपी में विभिन्न क्षेत्रों से आए 3 हजार 652 लोगों को क्वारंटाइन किया गया था। अब 17 मई तक लॉकडाउन विस्तारित किए जाने के कारण बडी संख्या में अन्य राज्यों से लोग उडुपी लौटने की संभावना है।

उडुपी के टीएम पै कोरोना वायरस अस्पताल में 600 बेड की क्षमता है।कार्कला में 12 तथा कुंदापुर में 25 बेड की क्षमता का कोरोना वायरस अस्पताल है। ऐसी स्थिति में आनेवाले दिनों में उडुपी लौटने वाले लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण होगा तो ऐसे लोगों की चिकित्सा के लिए विभिन्न अस्पतालों में बेड चिन्हित किए जा रहें है।

जिला प्रशासन से ऐसे लोगों का पंजीकरण करने के पश्चात अस्पताल में 14 तथा घर में 14 दिनों का क्वारंटाइन अनिवार्य किया है।बताया जा रहा है कि देश में रेल तथा विमान सेवाएं शुरु होते ही महाराष्ट्र, गोवा, दिल्ली आंध्र प्रदेश, राजस्थान, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना समेत विभिन्न राज्यों में रहने वाले उडुपी मूल के लोग बडी संख्या में अपने पैतृक गावों को लौटने की संभावना है। इस स्थिति से निपटने के लिए जिला प्रशासन अभी से तैयारियां कर रहा है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned