कर्नाटक में भी जारी रहेंगी राहुल गांधी की धार्मिक स्थलों की यात्राएं

कांगे्रस अध्यक्ष राहुल गांधी आने वाले दिनों में प्रदेश के शृंगेरी शारदा मठ सहित प्रमुख देवालयों व मठों में जाकर दर्शन करेंगे

By: शंकर शर्मा

Published: 04 Jan 2018, 11:48 PM IST

बेंगलूरु. गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के हिंदू मंदिरों का दौरा करने से मिले चुनावी लाभ को कर्नाटक में भी भुनाने के मसकद से कांगे्रस अध्यक्ष राहुल गांधी आने वाले दिनों में प्रदेश के शृंगेरी शारदा मठ सहित प्रमुख देवालयों व मठों में जाकर दर्शन करेंगे।


कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष व राज्य के ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के संगठन को मजबूत करने के लिए राहुल गांधी राज्य भर का दौरा करेंगे। इस दौरान जिस किसी इलाके में राहुल जाएंगे वहां के प्रमुख धर्म स्थानों का दौरा करके कर्नाटक में पार्टी की सफलता की कामना करेंगे।

उन्होंने कहा कि मंदिर व मठ किसी पार्टी की बपौती नहीं हैं। भाजपा के नेता देवालयों को अपने राजनीतिक लाभ के लिए भुनाने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि नेहरू परिवार का शृंगेरी शारदा मठ से पुराना रिश्ता रहा है। राजीव गांधी यहां आते रहते थे। इसलिए राहुल गांधी के इस मंदिर में जाने में विशेष कुछ नहीं है। उनके परिवार के लोग पहले से ही इस पवित्र तीर्थ पर आते जाते रहे हैं और अब राहुल गांधी वहां पर जा रहे हैं।


उन्होंने कहा कि उनके गृह जिले रामनगर में करोड़ों की लागत के विकास कार्यों का मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या शिलान्यास करेंगे। मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने रामनगर जिले के विकास के लिए सबसे अधिक अनुदान दिया है। शिवकुमार ने कहा कि कुड़लगी क्षेत्र के विधायक नागेन्द्र के कांग्रेस में शामिल होने से कांग्रेस की स्थिति और मजबूत होगी। कांग्रेस सत्ता में वापस लौट रही है। मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने सर्वेक्षण करवाया है। पार्टी के सर्वे में भी पता चला है कि प्रदेश के मतदाताओं का रुझान सत्ताधारी दल की तरफ है।

24 वार्ड में होंगी मोबाइल इंदिरा कैंटीन
बेंगलूरु. इंदिरा कैंटीन खोलने के लिए चौबीस वार्डों में स्थान अभाव के चलते बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) ने मोबाइल (चलित) कैंटीन खोलने का निर्णय किया है। महापौर संपतराज ने मंगलवार को बताया कि इन कैंटीनों में भी कम दाम पर नाश्ता और भोजन मिलेगा। पालिका के सभी १९८ में से १७४ वार्ड में स्थाई इंदिरा कैंटीन आरंभ की गई हंै। २४ वार्ड में जगह की कमी के कारण मोबाइल कैंटीन आरंभ की जाएंगी। मकर संक्रांति पर इन कैंटीनों का शुभारंभ होगा।


उन्होंने बताया कि चालक समेत कुल पांच कर्मचारी होंगे। मोबाइल कैंटीन निर्धारित समय पर वार्ड में पहुंचे हैं या नहीं, इसका पता लगाने के लिए जीपीएस लगाए जाएंगे। सुरक्षा के लिए सीसीटीवी भी होंगे। मोबाइल कैंटीन सुबह ७ बजे से ९.३० बजे तक, दोपहर में १२.३० बजे से २.३० बजे तक और रात में ७.३० बजे से ९.३० बजे तक निर्धारित जगह पर नाश्ता और भोजन मिलेगा।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned