व्याधि से मुक्ति के लिए करें तिरंगा जप

व्याधि से मुक्ति के लिए करें तिरंगा जप

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 16 2018 06:59:46 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

इस अनुष्ठान के जरिए साधक प्रशांत मन से एकाग्र चित्त होकर आज तक के कर्मों की आलोचना

जीवन में प्रतिदिन, प्रति क्षण, पंचेन्द्रिय तक के जीवों की विराधना होती है

मैसूरु. स्थानकवासी जैन संघ के तत्वावधान में सिटी स्थानक में डॉ समकित मुनि ने शनिवार को तिरंगा जप अनुष्ठान शुरू करते हुए कहा कि आधी व्याधि और उपाधि से मुक्त होने के लिए तिरंगा जप का अनुष्ठान अत्यावश्यक है। इस अनुष्ठान के जरिए साधक प्रशांत मन से एकाग्र चित्त होकर आज तक के कर्मों की आलोचना करते हुए चौरासी लाख जीवन भवों से क्षमायाचना करते हुए अपने कर्मों के भार को काम करता है। जीवन में प्रतिदिन, प्रति क्षण, पंचेन्द्रिय तक के जीवों की विराधना होती है।

तिरंगा जप अनुष्ठान में लगभग 250 दम्पति सहित 600 से अधिक साधकों ने भाग लिया। आनंदकंवर बलिया एवं आशा भंसाली ने मासखमण के प्रत्याख्यान ग्रहण किए। संघ अध्यक्ष कैलाशचंद बोहरा ने स्वागत किया। मंत्री सुशीलकुमार नंदावत ने धन्यवाद दिया। संचालन युवा संगठन के अध्यक्ष राजन बाघमार, उपाध्यक्ष मनोहर सांखला ने किया।


गणपति बप्पा की स्थापना
मंड्या. चामनहल्ली गांव के बालगंगाधर नाथ स्वामी स्कूल में शनिवार को गणपति प्रतिमा स्थापित की गई। विद्यार्थियों व शिक्षकों ने गाजे-बाजे व जयकारों के साथ दरबार सजाया। मुख्य अतिथि चुनचुनगिरि मठ के सोमनाथ स्वामी ने कहा कि किसी भी शुभ कार्य में सर्वप्रथम गणपति भगवान को आमंत्रित किया जाता है। कार्यक्रम में बन्नूर होबली मठ के पर्यावरण जाग्रति वैदिके अध्यक्ष के कालप्पा, प्रधानाचार्य अंसवतकुमार, व्यवस्थापक आनंद गौडा, शिक्षका पलवी कुमारी सहित स्कूल स्टाफ मौजूद रहा।

 

डॉ. विश्वेश्वरय्या की जयंती मनाई
मैसूरु. कर्नाटक इंजीनियर सेवा संघ के तत्वावधान में शनिवार को डॉ एम. विश्वेश्वरय्या की 157वीं जयंती अभियंता दिवस के रूप में धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर सभी अभियंताओं ने नजरबाद स्थित अभियंता कार्यालय से हाथों में बैनर व तख्तियां थामें गाजे बाजे संग रैली निकाली। रैली जेके खेल मैदान में पहुंच सभा में बदल गई। संघ अध्यक्ष सुरेश बाबू सहित अनेक वक्ताओं ने डॉ विश्वेश्वरय्या के योगदान की सराहना की।

Ad Block is Banned