यूके से कर्नाटक लौटे 10 यात्री कोविड पॉजिटिव : मंत्री

  • लोगों से कोरोना नियंत्रण नियमों के पालन की अपील करते हुए डॉ. सुधाकर ने कहा कि निर्णायक रिपोर्ट के आधार पर आगे की रणनीति तय करेंगे। स्वास्थ्य की रक्षा सरकार की प्राथमिकता है।

By: Nikhil Kumar

Published: 26 Dec 2020, 06:41 PM IST

बेंगलूरु. स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर ने कहा अब तक यूनाइटेड किंगडम (यूके) से कर्नाटक लौटे यात्रियों में से 10 यात्री कोविड पॉजिटिव निकले हैं। जेनेटिक स्वीकेंसिंग के लिए सभी के नमूने राष्ट्रीय मानसिक आरोग्य व स्नायु विज्ञान संस्थान (निम्हांस) भेजे गए हैं। इससे पता चलेगा कि ये कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से संक्रमित हुए हैं कि नहीं। रिपोर्ट आने में दो से तीन दिनों का समय लगेगा।

डॉ. सुधाकर ने बताया कि नए स्ट्रेन पर अध्ययन जारी है। प्रारंभिक अध्ययन के अनुसार यूके में सामने आए स्ट्रेन से ज्यादा संक्रामक है दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में मिला स्ट्रेन।

लोगों से कोरोना नियंत्रण नियमों के पालन की अपील करते हुए डॉ. सुधाकर ने कहा कि निर्णायक रिपोर्ट के आधार पर आगे की रणनीति तय करेंगे। स्वास्थ्य की रक्षा सरकार की प्राथमिकता है।

जेनेटिक स्वीकेंसिंग रिपोर्ट 28 को

निम्हांस (Nimhans) में न्यूरोवायरोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. वी. रवि ने बताया कि निम्हांस (The National Institute of Mental Health and Neuro-Sciences) में अब तक यूके से लौटे 13 यात्रियों के सैंपलों की जेनेटिक स्वीकेंसिंग (genetic sequencing) जारी है। सोमवार को रिपोर्ट जारी करेंगे। इनमें से नौ सैंपल बेंगलूरु और तीन सैंपल शिवमोग्गा और एक सैंपल मैसूरु से हैं।

डॉ. रवि ने बताया कि बाद में और सैंपल आते हैं तो स्वीकेंसिंग के लिए इन्हें नेशनल सेंटर फॉर बायोलॉजिकल साइंसेस (एनसीबीएस) भेजा जाएगा। एक बार में 12 सैंपल ही जांचे जा सकते हैं और इसमें 72 घंटे लगते हैं। एनसीबीएस आगे की जांच में मदद करेगा।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned