'CM बीएस येडियूरप्पा से इस्तीफा लेने की साजिश रच रहे दो केंद्रीय मंत्री'

'CM बीएस येडियूरप्पा से इस्तीफा लेने की साजिश रच रहे दो केंद्रीय मंत्री'
कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बीएस येडियूरप्पा

Ram Naresh Gautam | Updated: 10 Oct 2019, 01:06:03 AM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

  • केंद्रीय मंत्रियों (Union Ministers) पर आरोपों के आधार के बारे में विधायक ने कहा कि उन्होंने राजनीतिक जीवन में कभी बेबुनियाद आरोप नहीं लगाए हैं। दिल्ली (Delhi) स्थित उनके विश्वसनीय स्रोतों से उनको यह जानकारी मिली है।

बेंगलूरु. कर्नाटक (Karnataka) में भाजपा (BJP) विधायक (BJP MLA) बसवनगौड़ा पाटिल यत्नाल ने अपने बयान से फिर पार्टी को असहज बनाया है।

उन्होंने बुधवार को कहा कि दो केंद्रीय मंत्री ऐसे हालात बना रहे हैं जिससे मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा (CM BS Yediyurappa) को त्यागपत्र देना पड़े।

बुधवार को विजयपुर में उन्होंने कहा कि येडियूरप्पा की उम्र (76 वर्ष) का हवाला देकर ये केंद्रीय मंत्री पार्टी आलाकमान पर उन्हें सीएम पद से हटाने की मांग कर रहे हैं।

मगर येडियूरप्पा की लोकप्रियता के कारण उनकी यह साजिश सफल नहीं हो रही। यत्नाल ने कहा कि अनंतकुमार तथा येडियूरप्पा के बीच मतभेद थे, लेकिन दोनों ने कभी एक-दूसरे के खिलाफ कोई साजिश नहीं रची।

केंद्रीय मंत्रियों पर आरोपों के आधार के बारे में यत्नाल ने कहा कि उन्होंने राजनीतिक जीवन में कभी बेबुनियाद आरोप नहीं लगाए हैं।

दिल्ली स्थित उनके विश्वसनीय स्रोतों से उनको यह जानकारी मिली है। उन्होंने कहा कि अगर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री से मुलाकात कर सकती हैं तो कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा को मौका क्यों नहीं मिल रहा है।


येडियूरप्पा के विरोधियों पर लगाम जरूरी
बसवनगौड़ा ने कहा कि भाजपा को कर्नाटक में अपना अस्तित्व बचाना है तो येडियूरप्पा के सभी विरोधियों पर लगाम लगाना जरूरी है।

पार्टी की अनुशासन समिति की ओर से जारी नोटिस पर उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जगतप्रकाश नड्डा को जवाब दे दिया है।

राज्य के लिए समय पर आपदा राहत कार्यों के लिए केंद्र से अनुदान मांगने को पार्टी के अनुशासन का उल्लंघन नहीं कहा जा सकता।


मजबूर नहीं, मजबूत मुख्यमंत्री की जरूरत
भाजपा नेता बसवनगौड़ा पाटिल यत्नाल के बयान पर पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि यत्नाल के बयान में सच्चाई है तो मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा को तुरंत पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। राज्य की जनता को मजबूर नहीं, बल्कि मजबूत मुख्यमंत्री की आवश्यकता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned