कोप्पल जिले में बेमौसमी बारिश ने कहर बरपाया

जिले में बेमौसमी बारिश के कारण 75 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में खड़ी फसले तहस-नहस हो गई है। कृषि मंत्री बीसी पाटिल ने यह जानकारी दी यहां गुरुवार को जिला पंचायत कार्यालय में आयोजित समीक्षा बैठक में भाग लेने के पश्चात उन्होंने कहा कि जिले के कृषि निदेशक को इस नुकसान की विस्तृत रिपोर्ट पेश करने के लिए सूचित किया गया है

By: Sanjay Kulkarni

Published: 10 Apr 2020, 11:39 AM IST

कोप्पल.उन्होंने कहा कि जिले के कोप्पल गंगावती तथा कारटगी तहसिलों में तेज हवाओं के साथ हुई बारिश के कारण धान की फसल को नुकसान पहुंचा है। मुख्यमंत्री के साथ विचार विमर्श के पश्चात कोप्पल जिले के किसानों की हरसंभव मदद की जाएगी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में बागवानी तथा कृषि उपजों की ढुलाई तथा विपणन पर कोई रोक नहीं है। इन उत्पादों की ढुलाई शुरु होने के पश्चात किसानों को राहत मिलेगी।

जिले में नकली बिज के वितरण को लेकर पूछे सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि नकली बिज तथा कीटनाशक बेचनेवालों के खिलाफ कडी कार्रवाई की जाएगी। ऐसी दुकानों पर निगरानी के लिए जिले में सतर्कता दल का गठन करने के लिए विभाग के अधिकारियों को सूचित किया गया है।

जिले में आशा कार्यकर्ताओं पर हुए हमले को लेकर पूछे सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हमारे स्वास्थ्य की रक्षा के लिए अपने परिजनों की चिंता छोडकर दिन रात कार्य कर रहें स्वास्थ्य कर्मचारियों के प्रति हमे कृतज्ञता होनी चाहिए। आशा कार्यकर्ता घर-घर जाकर केवल इस बात की समीक्षा कर रही है क्या किसी घर में ऐसा व्यक्ति नहीं है जिसमें कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई दे रहें है। ऐसे कार्यकर्ताओं को सहयोग देना हमारा सामाजिक दायित्व है। इस दायित्व का उल्लंघन करनेवालों के खिलाफ अब कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned