वर्मा बेंगलूरु केे नए डीआरएम, सक्सेना का जबलपुर तबादला

वर्मा बेंगलूरु केे नए डीआरएम, सक्सेना का जबलपुर तबादला

Shankar Sharma | Publish: Apr, 23 2019 12:25:18 AM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

रेलवे बोर्ड ने शनिवार को भारतीय रेल सेवा से जुड़े 26 मंडल रेल प्रबंधकों के तबादले किए हैं। इनमें बेंगलूरु मंडल रेल प्रबंधक आरएस सक्सेना का तबादला जबलपुर किया गया है।

बेंगलूरु. रेलवे बोर्ड ने शनिवार को भारतीय रेल सेवा से जुड़े 26 मंडल रेल प्रबंधकों के तबादले किए हैं। इनमें बेंगलूरु मंडल रेल प्रबंधक आरएस सक्सेना का तबादला जबलपुर किया गया है। भारतीय स्टोर्स सेवा के अधिकारी नई दिल्ली के रेलवे स्टोर के कार्यकारी निदेशक अशोक कुमार वर्मा को बेंगलूरु मंडल रेल प्रबंधक के पद पर नियुक्त किया गया है। वर्मा २४ अप्रेल को बतौर मंडल रेल प्रबंधक पदभार ग्रहण करेंगे। मंडल रेल प्रबंधक आरएस सक्सेना का दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने वाला है। वे अब पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर में पदस्थ रहेंगे।


अशोक कुमार वर्मा ने ‘पत्रिका’ को बताया कि वे मूलत: जयपुर के चाकसू निवासी हैं और जयपुर में रहते हैं। भारतीय रेलवे स्टोर्स सेवा 1987 बैच के अधिकारी हैं। वर्तमान में वे रेल मंत्रालय में कार्यकारी निदेशक रेलवे स्टोर्स के रूप में कार्यरत हैं। इससे पहले उत्तर मध्य रेलवे के झांसी मंडल में बतौर अपर मंडल रेल प्रबंधक के रूप में काम कर चुके हैं।

जम्मू-कश्मीर नई रेल लाइन परियोजना में अपर महाप्रबंधक के रूप में मैसर्स इरकॉन इंटरनेशनल लिमिटेड में प्रतिनियुक्ति पर तीन साल तक काम कर चुके हैं। साथ ही वेस्टर्न रेलवे, रेल कोच फैक्टरी कपूरथला और डीएमडब्ल्यू पटियाला में काम किया है। वर्मा एमएनएनआइटी इलाहाबाद से सिविल इंजीनियरिंग में स्नाातक हैं और आर्थिक और वित्त में विशेषज्ञता के साथ आइआइएम कोलकाता से एमबीए किया है।


दक्षिण पश्चिम रेलवे की उपमहाप्रबंधक ई. विजया ने बताया कि दक्षिण पश्चिम रेलवे में (मैसूरु) अशोकपुरम कारखाने के मुख्य कार्यशाला प्रबंधक के रूप में कार्यरत अजय कुमार को मंडल रेल प्रबंधक तिरुचिरापल्ली के पद पर नियुक्त किया गया है।

तेंदुए के आतंक से ग्रामीणों में भय
मंड्या. जिले के किकेरी होबली के करीब आधा दर्जन गांवों में तेंदुए का आतंक फैला हुआ है। पैटनायकणहल्ली, रामणहल्ली, केतणहल्ली, कारवहल्ली, तगेहल्ली गांवों के ग्रामीण एक माह से तेंदुए के आतंक से भयभीत हैं। तेंदुआ आए दिन मवेशियों को शिकार बना रहा है। रात में घर से बाहर निकलना सुरिक्षत नहीं रहा।

तेंदुआ गत सप्ताह एक महिला को जख्मी कर चुका है। अभयारण्य अधिकारी मधुसूदन ने बताया कि तेंदुए को पकडऩे के प्रयास किए जा रहे हैं। गर्मी के कारण पहाड़ी क्षेत्र से वन्यजीव पानी पीने के लिए रिहायशी बस्तियों में आने लगते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned