शहर की तीन और सड़कों पर लागू होगी चर्च स्ट्रीट जैसी पैदल यात्री योजना

  • 'चर्च स्ट्रीट फर्स्ट-इम्पैक्ट असेसमेंट ऑफ पेडेस्ट्रियनाइजिंग ए अर्बन स्ट्रीट इन टर्म्स ऑफ क्वालिटी ऑफ लाइफ रिपोर्ट'
  • सकारात्मक प्रतिक्रिया से शहरी भूतल परिवहन निदेशालय उत्साहित, वायु गुणवत्ता में सुधार

By: MAGAN DARMOLA

Published: 26 Sep 2021, 07:51 PM IST

बेंगलूरु. चर्च स्ट्रीट की पैदल यात्री परियोजना पर बहुत सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलने से उत्साहित शहरी और भूमि परिवहन विभाग अब इसी तरह की परियोजना को तीन और सड़कों पर दोहराने की योजना पर काम कर रहा है। परिवहन विभाग ने भारतीय विज्ञान संस्थान द्वारा तैयार 'चर्च स्ट्रीट फर्स्ट-इम्पैक्ट असेसमेंट ऑफ पेडेस्ट्रियनाइजिंग ए अर्बन स्ट्रीट इन टर्म्स ऑफ क्वालिटी ऑफ लाइफ रिपोर्ट' जारी किया।

विभाग की आयुक्त वी मंजुला ने रिपोर्ट जारी करने के मौके पर बताया कि विभाग ने हाल ही में एक शोध और नवाचार नीति शुरू की है जिसके तहत चार और सड़कों पर इसी तरह के टेस्टबेड लगाने का निर्णय लिया गया है। हालांकि सूची को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है। मल्लेश्वरम 8वें क्रॉस, जयनगर 10वीं मेन और गांधी बाज़ार में चर्च स्ट्रीट के समान पैदल मार्ग पर काम किया जा रहा है।

एक टेस्टबेड एक ऐसी अवधारणा है जहां कई स्टार्टअप विभिन्न तकनीकों, विचारों या परियोजनाओं के साथ आते हैं, और उन्हें बाजार में लागू करने या लॉन्च करने से पहले प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा करते हैं। भारतीय विज्ञान संस्थान के एसोसिएट प्रोफेसर, ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम इंजीनियरिंग, सिविल इंजीनियरिंग विभाग, आशीष वर्मा ने कहा कि अध्ययन रिपोर्ट न केवल वैज्ञानिक मूल्यांकन दिखाती है, बल्कि यह जीवन की गुणवत्ता पर भी प्रकाश डालती है।

वायु प्रदूषण की स्थिति में हुआ सुधार

रिपोर्ट में पैदल चलने वाले सप्ताहांत के दिनों में वायु गुणवत्ता में स्पष्ट सुधार दिखाया गया है। पैदल चलने वालों की संख्या का आकलन करते हुए यह पाया गया कि नवंबर 2020 से फरवरी 2021 तक, चर्च स्ट्रीट पर औसत दैनिक आवागमन में 92 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

यात्रियों में 162 प्रतिशत की वृध्दि

फरवरी 2021 में सप्ताहांत के दौरान एमजी रोड मेट्रो स्टेशन पर चढऩे और उतरने वाले यात्रियों की संख्या नवंबर 2020 की तुलना में लगभग 2.6 गुना अधिक रही, यानी नवंबर 2020 से फरवरी 2021 तक 162 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।

35 प्रतिशत ने कहा, व्यापार में वृध्दि

चर्च स्ट्रीट पर 35 प्रतिशत दुकान मालिकों का कहना है कि इस दौरान व्यापार गतिविधि में वृद्धि हुई। दुकानदारों का कहना था कि पदयात्रा को बढ़ावा देने से उनके व्यवसाय पर समग्र सकारात्मक प्रभाव पड़ा। वहीं 49 प्रतिशत ने इस कथन से असहमति जताई। बाकी का कहना था कि इस दौरान व्यापार ठीक-ठीक रहा। हालांकि, 81 प्रतिशत दुकान मालिकों ने कहा कि वे इस दौरान बेहतर वायु गुणवत्ता से संतुष्ट हैं। अध्ययन में कहा गया है कि लगभग 50 प्रतिशत दुकान मालिक चर्च स्ट्रीट में लागू की गई इस पहल को आगे बढ़ाने की सलाह देते हैं।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned