राज्य में वर्चुअल कक्षाओं को मिलेगी अनुमति

नर्सरी से दसवीं तक ऑनलाइन शिक्षा के नए दिशा निर्देश जारी

By: Santosh kumar Pandey

Published: 29 Jun 2020, 02:13 PM IST

बेंगलूरु. राज्य सरकार ने कर्नाटक उच्च न्यायालय के 26 जून के निर्देशों व केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय के दिशा निर्देशों के आधार पर राज्य में स्टेट बोर्ड, आइसीएसई, सीबीएसई, अंतरराष्ट्रीय पाठ्यक्रम सहित तमाम स्कूलों में नर्सरी से लेकर दसवीं तक की कक्षा के विद्यार्थियों को आनलाइन शिक्षा देने के संबंध में नए दिशा निर्देश जारी किए हैं।

सरकारी आदेश के अनुसार पूर्व प्राथमिक यानी एलकेजी व यूकेजी के बच्चों को सप्ताह में एक दिन 30 मिनट तक अभिभावकों की मौजूदगी में संवाद व मार्गदर्शन दिया जा सकेगा। पहली कक्षा से पांचवी कक्षा के विद्यार्थियों को सप्ताह में तीन दिन 30 से लेकर 45 मिनट की की दो कक्षाओं में ऑनलाइन शिक्षा दी जा सकेगी। छठी से आठवीं तक के विद्यार्थियों को सप्ताह में पांच दिन 30 से 45 मिनट के दो कक्षाओं में जबकि कक्षा नौंवीं से लेकर दसवीं तक के विद्यार्थियों को 30 से लेकर 45 मिनट के चार कक्षाओं में

सप्ताह में पांच दिन ऑनलाइन शिक्षा दी जा सकेगी।
आदेश में कहा गया है कि राज्य सरकार ने मॉडल आनॅलाइन शिक्षा देने की सिफारिश करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है जिसकी अब तक दो बैठकें हो चुकी हैं। इस समिति द्वारा तैयार किए जाने वाले दिशा निर्देशों के आधार पर सरकार द्वारा जारी अंतिम आदेश तक ही यह व्यवस्था लागू रहेगी। आदेश में कहा गया है कि ऑनलाइन शिक्षा देने के नाम पर कोई भी स्कूल वार्षिक शुल्क के अलावा अभिभावकों से अतिरिक्त शुल्क वसूल नहीं कर सकती है।

Corona virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned