'भड़ पहाड़ां में विराज्या जोगी जलंधरनाथ'

'भड़ पहाड़ां में विराज्या जोगी जलंधरनाथ'

Ram Naresh Gautam | Updated: 27 Sep 2018, 04:47:05 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

एक शाम पीर शान्तिनाथ के नाम

मैसूरु. राजस्थान राजपूत समाज मैसूरु के तत्वावधान में विद्याशंकर निलय कल्याण मंडप परिसर में मंगलवार को शान्तिनाथ की छठी पुण्यतिथि पर एक शाम पीर शान्तिनाथ के नाम भजन संध्या का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम शान्तिनाथ की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर ज्योत प्रज्वलित की गई।

भजन गायक पूरण भारती देवकी एवं मंडली ने महाराज गजानन आवो नी म्हारी सभा में रंग बरसावो नी..., सिमरु शारदा माय सिमरु सरस्वती माय..., भड़ पहाड़ां में विराज्या जोगी जलंधर नाथ..., लोक भजनों की प्रस्तुति देकर माहौल को भक्तिमय बना दिया। भक्त देर रात तक भजनों पर थिरकते रहे। नर्तक मंगेश प्रजापत ने बाबा रामदेव व अन्य रूप धारण कर शानदार नृत्य पेश किया।

अगले दिन फिर बुधवार प्रात: पीर शान्तिनाथ की महाआरती के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई। इस अवसर पर रणजीत सिंह, परबतसिंह नरसाणा, गणपत सिंह ओटवाला, अर्जुन सिंह का बहुमान किया गया। बाद में विभिन्न प्रकार के चढ़ावों की बोलियां लगाई गईं, जिसमें समाज के लोगों ने भाग लिया। धर्मसभा में मैसरु, नन्जनगुड, चामराजनगर, विराजपेट, मडकेरी, कुशालनगर, पांडवपुरा, मंड्या, नागमंगला आदि से भक्त पहुंचे।
विधायक एस.ए.रामदास का संघ की ओर से तिलक, हार व शाल ओढ़ाकर सम्मान किया गया।

राजस्थान राजपूत समाज मैसूरु के उपाध्यक्ष केशरसिंह दहिया, सचिव गणपत सिंह ओट्वाला, कोषाध्यक्ष मंगल सिंह राठौड़, सलाहकार प्रतापसिंह देवकी, सदस्य विक्रम सिंह भाटी, मोडसिंह, जबरसिंह दहिया, राणसिंह दहिया, बलवंत सिंह बागोड़ा, नागसिंह, राजस्थान विष्णु समाज सेवा ट्रस्ट के पदाधिकारियों सहित अन्य समाज के महाराणा प्रताप राजपूत मंडल के अध्यक्ष मनोहर सिंह चौहान, मरुधर रायका समाज सेवा संघ के अध्यक्ष कूपा राम गलसर, आंजणा पटेल समाज के अध्यक्ष हीराराम पोण, क्षत्रिय घाची समाज के अध्यक्ष जेसाराम घाची, जाट समाज के प्रतिनिधि आनंदराम लूखा मौजूद रहे।

 

---

प्रतियोगी परीक्षाओं के नि:शुल्क प्रशिक्षण केंद्र का आरंभ 29 को
चिक्कबल्लापुर. प्रशासनिक सेवाओं की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए नि:शुल्क प्रशिक्षण केंद्र स्थापित किया जाएगा। केंद्र के संस्थापक सेवानिवृत्त प्रशासनिक अधिकारी सी. मुनियप्पा ने बताया कि बहुत बड़ा तबका सटीक प्रशिक्षण के अभाव में ऐसी परीक्षाओं से दूर रहता है। इस केंद्र में अनुसूचित जाति, जन जाति समुदाय के अलावा समाज के कमजोर वर्ग के युवाओं को चार माह तक नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। सेवानिवृत्त प्रशासनिक अधिकारी प्रशिक्षुओं का मार्गदर्शन करेंगे। 29 सितम्बर से यह केंद्र
शुरू होगा।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned