दस वर्ष का इंतजार, आधे घंटे में हुआ समाधान

दस वर्ष का इंतजार, आधे घंटे में हुआ समाधान
दस वर्ष का इंतजार, आधे घंटे में हुआ समाधान

Santosh Kumar Pandey | Publish: Sep, 18 2019 05:04:51 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

Woman was wandering to get compensation after husband's death got solution in half an hour. पति की मौत के बाद मुआवजा पाने भटक रही थी महिला को राहत मिली.

बेंगलूरु. आवास मंत्री वी. सोमण्णा ने 10 वर्ष मुआवजे की राशि पाने भटक रही महिला की समस्या का आधे घंटे में समाधान कर दिया। पति की मौत के बाद कावेरी भवन में स्थित आवास विभाग के मुख्यालय के चक्कर लगा रही चित्रदुर्गा की सुनीता नामक महिला को राहत मिली है।

मुख्यालय में विभागीय अधिकारियों की बैठक के बाद सोमण्णा को मंजुला नामक महिला ने शिकायत करते हुए बताया कि पति मंजुनाथ आवास विभाग में कर्मचारी थी, ड्यूटी के दौरान २009 में उनकी एक हादसे में मौत हो गई थी। मुआवजे की राशि के लिए आवेदन दिया था, लेकिन 10 साल में रकम नहीं मिली है।

महिला की शिकायत पर मंत्री वी. सोमण्णा ने अधिकारियों को फटकार लगाते हुए आधे घंटे में मुआवजे की राशि का चेक महिला को सौंपने के निर्देश दिए तथा साथ सहानुभूति के आधार पर इस महिला को भी आवास विभाग में रोजगार देने के आवेदन का सात दिन में निपटारा करने के निर्देश दिए।

आवास मंत्री का गुस्सा देखकर आवास विभाग के अधिकारियों ने महिला को कुछ ही समय में 5 लाख 50 हजार रुपए मुआवजे का चेक प्रदान किया। रोजगार को लेकर अगले सप्ताह में आवश्यक आदेश जारी करने की सूचना दी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned