राज्य में खाद तथा बीज का पर्याप्त भंडारण

कृषि मंत्री बोले

By: Sanjay Kulkarni

Published: 24 Jul 2020, 10:22 PM IST

बेंगलूरु. राज्य में गत वर्ष की मांग को देखते हुए पहले से ही मांग से अधिक खाद का भंडारण सुनिश्चित किया गया है। इस कारण राज्य में खाद नहीं मिलने की कोई शिकायत नहीं है। कृषि मंत्री बीसी पाटिल ने यह बात कही।उन्होंने यहां शुक्रवार को कहा कि सभी जिलों में अच्छी बारिश के कारण बुवाई का कार्य चल रहा है। हावेरी, धारवाड़, बेलगावी, दावणगेरे, दक्षिण कन्नड़, उत्तर कन्नड़ जैसे जिलों में 90 फीसदी से अधिक बुवाई पूरी हो गई है।

कई जिलों में अगस्त के दूसरे सप्ताह तक बुवाई होने के कारण वहां यूरिया समेत खाद तथा बीज का पर्याप्त भंडारण किया गया है। कोरोना संक्रमण का कृषि संबंधित गतिविधियों पर कोई असर नहीं हुआ है।उन्होंने कहा कि वर्ष 2020-21 अप्रैल 1 से लेकर जुलाई माह के अंत तक कुल मिलाकर 13.99 लाख मीट्रिक टन खाद की मांग थी। जिसमें 4.98 लाख मीट्रिक टन यूरिया, 3 लाख 6 हजार एमटी डीएमपी, 1 लाख 37 हजार एमटी एमओपी तथा 4 लाख 58 हजार एमटी कांप्लेक्स खाद की मांग थी इसमें से 23 जुलाई तक 13 लाख 50 हजार एमटी खाद की आपूर्ति सुनिश्चित की गई है।

गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष खाद की मांग में 5.4 फीसदी वृद्धि हुई है। खासकर युरिया खाद की मांग में 30.8 फीसदी वृद्धि हुई है।इस वर्ष बीज की मांग 5 लाख 97 लाख क्विंटल थी। अभी तक 3 लाख 30 क्विंटल बीजों की आपूर्ति की गई है। विभिन्न जिलों के किसान संपर्क केंद्रों में 52 हजार 110 क्विंटल बीज का भंडारण किया गया है। इस वर्ष 71 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned