रिमझिम फुहारों ने मौसम में घोली गुलाबी ठंडक

14 डिग्री सेल्सियस तक उतर सकता है न्यूनतम तापमान

By: Rajendra Vyas

Published: 24 Nov 2018, 07:08 PM IST

अगले 36 घंटों तक आसमान में छाये रह सकते हैं बादल

सप्ताहांत पर संभल कर निकलें बाहर

बेंगलूरु. रिमझिम फुहारों से शुक्रवार को पूरे दिन शहर भीगता रहा और मौसम में ठंडक घुल गई। हालांकि बारिश की मात्रा बेहद कम रही लेकिन अल्ल सुबह से ही फुहारों ने शहर को भिगोना शुरू कर दिया जिस वजह से मौसम खुशनुमा लेकिन गुलाबी ठंडक लिए रही। रुक रुक हो रही बारिश के कारण लोगों को जहां तहां रुकने पर मजबूर होना पड़ा।
मौसम विभाग के अनुसार पड़ोसी राज्य तमिलनाडु सहित अन्य क्षेत्रों में आए गाजा तूफान के कारण बेंगलूरु सहित दक्षिण अंदरुनी कर्नाटक के कई जिलों में मौसम ने करवट बदली है। आसमान पर जहां पूरे दिन बादलों ने डेरा जमाए रखा वहं सूर्यदेव भी बादलों की ओट में छिपे रहे। विभाग के अनुसार अगले 24 से 36 घंटों तक रिमझिम फुहारों की झड़ी लगी रह सकती है लेकिन मूसलाधार बारिश की संभावना नहीं है। बादल घिरे रहने और रिमझिम बारिश के कारण तापमान में 3 से 4 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है। जहां पिछले सप्ताह तापमान सामान्य से 4 डिग्री अधिक 31 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था वहीं मौसम में आए बदलाव के कारण शुक्रवार को अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेलस्यिस रहा जबकि न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेलस्यिस पहुंच गया। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो से तीन दिनों के दौरान न्यूनतम तापमान में और ज्यादा गिरावट आएगी और अगले सप्ताह 14 डिग्री सेलस्यिस तक पहुंचने की उम्मीद है।
शनिवार और रविवार को भी मौसम का बदला रूप लोगों को भिगो सकता है, इसलिए सप्ताहांत पर घर से निकलने के दौरान सतर्क रहने की जरुरत है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार ऐसे मौसम में स्वास्थ्य के प्रति सजग रहने की जरूरत है। अचानक से भीगने और तापमान में असामान्य बदलाव का सीधा स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। इसलिए सप्तहांत पर अगर परिवार और बच्चों के साथ घूमने के लिए निकलने की योजना हो तो मौसम के अनुरूप पोशाक पहनकर निकलें।

Rajendra Vyas Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned