scriptWho can extinguish that which smells - Sadhvi Bhavyagunashree | जो महकता है उसे कौन बुझा सकता है-साध्वी भव्यगुणाश्री | Patrika News

जो महकता है उसे कौन बुझा सकता है-साध्वी भव्यगुणाश्री

धर्मसभा का आयोजन

बैंगलोर

Updated: December 24, 2021 07:12:35 am

बेंगलूरु. इंद्रानगर में विराजित साध्वी भव्यगुणाश्री व साध्वी शीतलगुणाश्री ने कहा कि फूंक मारकर हम दिए को बुझा सकते हंै, पर अगरबत्ती को नहीं, क्योंकि जो महकता है, उसे कौन बुझा सकता है, और जो जलता है, वह खुद बुझ जाता है। साध्वी भव्यगुणाश्री जी ने कहा कि जीवन में शांत रहेंगे तो खुद को बहुत मजबूत पाएंगे, क्योंकि लोहा ठण्डा रहने पर ही मजबूत रहता है। उन्होंने कहा कि गर्म होने पर तो उसे किसी भी आकार में ढाल दिया जाता है। साध्वी शीतलगुणाश्री ने कहा कि कोई भी व्यक्ति हमारा मित्र या शत्रु बनकर संसार में नहीं आता। हमारा व्यवहार और शब्द ही लोगों को मित्र और शत्रु बनाते हैं। उत्तमचंद, रोहित कुमार गादिया ने कहा कि विहार सेवा ग्रुप ने विहार सेवा भक्ति का लाभ लिया। गौतमचंद लूणिया, विजय कांकलिया, कमल गादिया, रोहित गादिया, सोनू शर्मा, प्रकाश बोहरा, विनोद खाबिया, आशीष कोठारी, महेंद्र बेगानी, मनोज कोठारी, प्रकाश चोपड़ा, सोनल कोठारी, श्वेता ने विहार का लाभ लिया। साध्वीवृन्द शुक्रवार को विहार कर गौतमचंद, कमल गादिया के यहां पहुंचेंगी।
जो महकता है उसे कौन बुझा सकता है-साध्वी भव्यगुणाश्री
जो महकता है उसे कौन बुझा सकता है-साध्वी भव्यगुणाश्री
शिशु संस्कार बोध कार्यशाला का आयोजन
बेंगलूरु. जैन श्वेतांबर तेरापंथ सभा के तत्वावधान में साध्वी कंचनप्रभा एवं साध्वी मंजू रेखा के सान्निध्य में प्रशिक्षिक बहनों के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। साध्वी ने बेंगलूरु के प्रशिक्षिक बहनों के श्रम की प्रशंसा की और कि कहा कोविड-19 की परिस्थिति में भी प्रशिक्षिक बहनें ज्ञानशाला के विकास के लिए सतत प्रयत्नशील हैं। ज्ञानशाला से बच्चों को जोड़े रखा है और अपने स्वयं का विकास भी कर रही है। प्रशिक्षिक बहनों को परीक्षा लेते समय प्रामाणिकता रखने की प्रेरणा दी। क्षेत्रीय संयोजिका नीता गादिया ने केंद्र ने प्रदत परीक्षा के नियमों के बारे में बताया। मुख्य प्रशिक्षिका पुष्पा गन्ना, जोन संयोजिका चेतना मूथा, लता गांधी, बबीता चोपड़ा, अनीता नाहर भी कार्यशाला में उपस्थित थे। 16 ज्ञानशाला से संयोजिका एवं 30 प्रशिक्षिक बहनों ने कार्यशाला में भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन बबीता चोपड़ा ने किया। आभार मंजू ने जताया।
जो महकता है उसे कौन बुझा सकता है-साध्वी भव्यगुणाश्री

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमएनएफएसयू का साइबर डिफेंस सेंटर अब आईएसओ-आईसी प्रमाणित, बनी देश की पहली लैबकांग्रेस के तीन घोषित प्रत्याशी पार्टी छोड़ कर भागे, प्रियंका गांधी हुई हैरानDelhi Metro: गणतंत्र दिवस पर इन रूटों पर नहीं कर सकेंगे सफर, DMRC ने जारी की एडवाइजरी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.