अच्छी संगत से मनुष्य नर से नारायण बन जाता है

यशवंतपुर में धर्मसभा

By: Yogesh Sharma

Published: 01 Aug 2021, 07:32 AM IST

बेंगलूरु. यशवंतपुर स्थानक में विराजित साध्वी राजमती ने कहा कि प्रभु महावीर ने संसार सागर से तिरने की एक राह बताई कि धर्म की शरण में आता है। वह चौरासी के चक्कर में गोता नहीं लगाता। जो धर्म की शरण में नहीं आता वह चौरासी के चक्कर लगाता रहता है। अच्छी संगत से मनुष्य नर से नारायण बन जाता है। इसके लिए क्रोध मान, माया, लोभ को छोडऩा होगा। तभी हमारी आत्मा का कल्याण होगा। हम सुधर गए तो परिवार मोहल्ला गांव देश सुधर जाएगा। इससे पहले साध्वी विनयश्री ने कहा कि जीवन का कल्याण, उत्थान, कर्मबंध से मुक्त होना है तो मनुष्य को अच्छी बात को सुनना होगा। बाहर की संसार की बातें हम बहुत सुनते हैं लेकिन अच्छी बातें आत्मा को ऊपर तक पहुंचाएगी और अपने अंतिम लक्ष्य मोक्ष को प्राप्त करेगी। संघ मंत्री रमेश बोहरा ने बताया कि आचार्य भगवंत आनन्द ऋषि की जयंती के उपलक्ष में इंदौर में विराजित उपाध्याय प्रवीण ऋषि की प्रेरणा नवकार महामन्त्र के जाप का आयोजन होने जा रहा है। एक करोड़ इक्कीस लाख का जाप होगा। इसी के अंतर्गत यशवंतपुर स्थानक में भी रविवार सुबह 8:30 से 10 बजे तक रहेगा।

Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned