संस्कार निर्माण में महिलाओं की भूमिका अहम

महिलाओं का तीन दिवसीय धार्मिक शिविर संपन्न

By: Rajendra Vyas

Published: 15 Nov 2018, 04:21 PM IST

मैसूरु, चेन्नई, बेंगलूरु व तिणनामल्ले की 235 बहनों ने जैन धर्म-दर्शन का लाभ लिया
बेंगलूरु. समरथ गच्छीय साध्वी जयश्री आदिठाणा 5 के सान्निध्य में श्वेताम्बर जैन संघ ट्रस्ट अशोकनगर शूले की ओर से आयोजित तीन दिवसीय महिला धार्मिक शिविर बुधवार को सम्पन्न हुआ।
समापन समारोह में स्वाध्यायी शांतिलाल बोहरा ने कहा कि शिविर में सीखे ज्ञान को बनाए रखने और आगे बढ़ाने के लिए बहनों को नियमित अभ्यास करना चाहिए। मुख्य अतिथि राजस्थान पत्रिका बेंगलूरु के सम्पादकीय प्रभारी राजेन्द्रशेखर व्यास ने कहा कि संस्कार निर्माण में महिलाओं की भूमिका अहम होती है। परिवार में संस्कार की नींव मातृशक्ति ही है। इसलिए संत साध्वियों के सान्निध्य और मार्गदर्शन में महिलाओं के लिए ऐसे शिविरों का आयोजन जरूरी है। इसके माध्यम से परिवार में सकारात्मक वातावरण और खुशहाली बनी रहती है। समाज में नैतिक संस्कार सशक्त होते हैं।
अध्यक्षता शूले संघ के अध्यक्ष यशवंतराज सांखला ने की। बतौर विशेष अतिथि समरथगच्छ के कर्नाटक शाखा के अध्यक्ष धनपतराज सुराणा, मरुधर जैन संघ के अध्यक्ष छगनमल लूणावत, शूले संघ के मंत्री सुरेन्द्रलाल मरलेचा, सहमंत्री डॉ. रमेश गादिया, पूर्व कोषाध्यक्ष इन्दरचंद भंसाली, नेमीचंद भंसाली, जैन युवा संगठन के पूर्व महामंत्री प्रेमकुमार कोठारी, समरथगच्छीय महिला संघ की प्रभारी निर्मला बाई सुराणा, बसंता बाई दुदेडिय़ा, शांतिबाई मरलेचा मंच पर मौजूद थे।
शूले महिला बहू मंडल की संयोजक आशा गादिया ने रिपोर्ट पेश की और बताया कि शिविर में मैसूरु, चेन्नई, तिणनामल्ले व बेंगलूरु की 235 बहनों ने हिस्सा लेकर जैन धर्म व दर्शन के शास्त्र ज्ञान का लाभ लिया। शिविर में कर्नाटक जैन स्वाध्याय संघ के प्रशिक्षकों ने ज्ञान दर्शन, चरित्र विषय पर कक्षाओं के माध्यम से मार्गदर्शन किया। अंतिम दिन तारा सांखला, चंदन मेड़तवाल, शिल्पा जैन ने शिविर के अनुभव साझा किए। संगीता, निकिता धोका, सपना गादिया, ज्योति पोकरना ने शिविर की महत्ता बताई। शिविर में सहयोग देने पर शांतिलाल बोहरा, सुरेश गुलेच्छा, मीठालाल पटवा, सरोजबेन पूनमिया, मंजू समदडिय़ा, वंदना कोठारी का सम्मान किया गया। मंगलाचरण अंजु, कीर्ति, ममता और आशा ने प्रस्तुत किया। यशवंतराज सांखला ने आभार जताया। संचालन शीतल भंसाली ने किया।

युवा सेमिनार 18 को
शूले जैन युवा संघ के अध्यक्ष सुनील मरलेचा ने बताया कि 18 नवम्बर को युवा सेमिनार का आयोजन होगा। इसके लिए जैन युवकों की सवा सौ से अधिक प्रविष्टियां आ चुकी हैं।

Rajendra Vyas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned