दृष्टिबाधितों के लिए व्यावसायिक चिकित्सा कारगर

दृष्टिबाधितों के लिए व्यावसायिक चिकित्सा कारगर

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 05 2018 05:01:07 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

डॉ. अरुण एम. ने कहा कि आम तौर पर उम्र संबंधित कारणों से आंखों की रोशनी कम होती है

मणिपाल. कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, मणिपाल ने ठीक से देख नहीं सकने वाले लोगों के पुनर्वास में व्यावसायिक चिकित्सा की भूमिका शीर्षक पर मंगलवार को एक कार्यशाला का आयोजन किया। डॉ. सुलता भंडारी ने शिवर का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा, ऐसे लोगों को आत्मनिर्भर बनाने व उनके जीवन की गुणवत्ता सुधारने में व्यावसायिक चिकित्सा कारगर है। इसके लिए नेत्र रोग विशेषज्ञों सहित अन्य पेशेवरों को एक साथ काम करने की जरूरत है। डॉ. अरुण एम. ने कहा कि आम तौर पर उम्र संबंधित कारणों से आंखों की रोशनी कम होती है, लेकिन अब युवाओं और बच्चे भी प्रभावित हैं। मधुमेह और उच्च रक्तचाप के कारण भी ऐसे मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं।


मैसूर हिंदी प्रचार परिषद की हिंदी परिक्षाएं 8 से
बेंगलूरु. मैसूरु हिंदी प्रचार परिषद की ओर से संचालित हिंदी परिक्षाएं शनिवार तथा रविवार सितम्बर को होंगी। परिषद के प्रधान सचिव आर. चंद्रशेखर के अनुसार प्रमाणित प्रचारक परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र निर्धारित परीक्षा केंद्र के अधीक्षक से प्राप्त कर सकते हैं।

 

जातरा महोत्सव शुरू
मंड्या. मुत्ताती गांव में वीर आंजनैया स्वामी मंदिर का जातरा महोत्सव मंगलवार को शुरू हुआ। पहले दिन भक्तों की भीड़ रही। मंदिर में प्रतिमा का दुग्धाभिषेक कर तुलसी के पत्तों व फूलों से शृंगार किया।

 

पकड़ा गया हाथी

वन विभाग भविष्य में इस हाथी को दशहरा महोत्सव में शामिल करने पर विचार कर रहा है

मंड्या. मैसूरु दशहरा महोत्सव में हिस्सा लेने वाले चार प्रशिक्षित हाथी बलराम, अभिमन्यु, हर्षा और द्रोण की मदद से वन विभाग की टीम ने मंगलवार को एक जंगली हाथी को पकड़ लिया। इस हाथी ने कई दिनों से रामनगर के जंगलों में उत्पात मचा रखा था। हाथी को मतिगोडू हाथी शिविर में रखा गया है। वन विभाग भविष्य में इस हाथी को दशहरा महोत्सव में शामिल करने पर विचार कर रहा है। पशु चिकित्सक डॉ. मुजीब व शार्प शूटर वेंकेटेश और अकरम ने टीम की अगुवाई की।

Ad Block is Banned