देवराज मार्केट गिराने के फैसले पर यदुवीर ने जताई आपत्ति

यह एक हेरिटेज भवन है, इसे संरक्षित किया जाना चाहिए

बेंगलूरु.
मैसूरु शहर के बीचोबीच स्थित सदियों पुराने देवराज मार्केट को ध्वस्त किए जाने के मैसूरु सिटी कॉरपोरेशन (एमसीसी) के फैसले पर यदुवीर कृष्णदत्ता चामराजा वाडियार ने कड़ आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि यह एक हेरिटेज भवन है और इसे संरक्षित किया जाना चाहिए।
यदुवीर नेे कहा कि मार्केट की स्थिति का अध्ययन करने के लिए गठित विशेषज्ञ समिति के सदस्यों में प्रोफेसर रंगराजू को छोड़कर कोई भी विशेषज्ञ नहीं था। समिति की रिपोर्ट में मार्केट को तोड़े जाने की सिफारिश अपने आप में अवैज्ञानिक है। अदालत ने इस हेरिटेज भवन के संदर्भ में कोई फैसला नहीं सुनाया है। उसने सुझाव दिया था कि एमसीसी एक समिति बनाए और उसके सुझावों के आधार पर निर्णय करे। इस भवन को गिराने का निर्देश नहीं दिया गया था। वे मेयर तनसीम बानो और एमसीसी के आयुक्त गुरुदत्त हेगड़े के उस विचार से सहमत नहीं है कि इस मुद्दे को चर्चा के जरिए सुलझाया जा सकता है।

Rajeev Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned