युवाओं को आकर्षित करता है फैशन

बॉलीवुड के जाने-माने डिजाइनर कंवलजीत सिंह ने कहा है कि मौजूदा दौर में दुनिया फैशन की ओर बढ़ रही है।

By: शंकर शर्मा

Published: 03 Mar 2019, 11:35 PM IST

हुब्बल्ली. बॉलीवुड के जाने-माने डिजाइनर कंवलजीत सिंह ने कहा है कि मौजूदा दौर में दुनिया फैशन की ओर बढ़ रही है। युवा नई व अनोखी शैली के मॉडलों की ओर आकर्षित होकर जीवन शैली को बदल रहे है जो सहज प्रक्रिया है। कंवलजीत सिंह शनिवार को आईबीएमआर शिक्षण संस्था में फैशन डिजाइन कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फिल्म जगत में बेशुमार शैली के डिजाइन दिन ब दिन बढ़ रहे हैं।

इसके चलते विद्यार्थियों में व्यावसायिक कौशल बढ़ाने की खातिर ऐसी फैशन डिजाइन कार्यशालाएं पूरक मंच हैं। इसके बाद उन्होंने विद्यार्थियों को कार्यशाला में वेशभूषा के बारे में जानकारी दी। विभिन्न प्रकार के परिधानों का डिजाइन कैसा तैयार करना चाहिए इस बारे में उन्होंने प्रायोगिक तौर पर बताया। इस कार्यशाला में नई शैली के फैशन डिजाइन के बारे में जानकारी दी। इसी दौरान कई विद्यार्थियों ने विशेष शैली में रैंप वॉक किया। इस अवसर पर ज्योति बिदासरिया, संदीप बिदासरिया, उल्लास गैमा समेत कई उपस्थित थे।

गदग स्टेशन का नाम बदलने की मांग का ज्ञापन सौंपा
गदग. कर्नाटक राज्य रेलवे अभिवृद्धि होराटा समिति ने गदग रेलवे स्टेशन का नाम कवि पुट्टराज गवाई पर रखने की मांग की है। शनिवार को समिति के पदाधिकारियों ने अपनी मांग को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।
पदाधिकारियों का कहना था कि जिस प्रकार विभिन्न रेलवे स्टेशनों को महान हस्तियों का नाम दिया गया है, उसी प्रकार गदग रेलवे स्टेशन को विश्व संत कवि डॉ. पंडित. पुट्टराज गवाई का नाम दिया जाना चाहिए।


्रपदाधिकारियों का कहना था कि दृष्टिहीन-अनाथों का लालन पालन कर उन्हें संगीत क्षेत्र के सितारे बनाने में गदग वीरेश्वर पुण्याश्रम के डॉ. पंडित पुट्टराज गवाईगल ने दिनरात एक कर किया। जिस प्रकार बेंगलूरु रेलवे स्टेशन को संगोल्ली रायण्णा का नाम दिया गया है उसी प्रकार गदग रेलवे स्टेशन को पद्मभूषण डॉ. पंडित पुट्टराज गवाईगल का नाम दिया जाना चाहिए। पंडित पुट्टराज गवाई की १०५वीं जयंती के उपलक्ष्य में उपहार के रूप में यह व्यवस्था करने की मांग रखी।


कर्नाटक राज्य रेलवे अभिवृद्धि होराट समिति गदग-हावेरी रेलमार्ग निर्माण के लिए कई सालों से संघर्ष किया जा रहा था। परिणामस्वरूप केंद्र सरकार पर राज्य के सांसदों ने दबाव बनाकर नए मार्ग मंजूर करवाए। इस मार्ग के लिए पहले से ही ६५० करोड़ रुपये मुहैया करवाए गए हैं। गदग-हावेरी नई रेल मार्ग के लिए आवश्यक भूमि अधिग्रहण कर रेलवे विभाग को सौंपकर शीघ्र निर्माण कार्य करने संबंधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया।


ज्ञापन में कहा गया है कि गदग-मुंडरगी-हरपनहल्ली तथा गदग से कणगीहाल, कोटुमचगी, नरेगल, गजेंद्रगढ़, कुष्टगी, लिंगसूर के जरिए वाडी तक नई रेल लाइन की घोषणा केंद्र सरकार पहले से ही कर चुकी है। इन दोनों नई रेल लाइनों के लिए अनुदान जारी करने की मांग केंद्र सरकार के सम्मुख रखी गई है। ज्ञापन कर्नाटक राज्य रेलवे अभिवृध्दि होराट समिति गदग जिला इकाई के अध्यक्ष निसार अहमद खाजी, प्रधान सचिव बसवण्णेय्या हिरेमठ के नेतृत्व में सौंपा गया।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned