अबूलाला एवं सोहराब हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता नेपाल जेल से रिहा, बांसवाड़ा पुलिस ने कसा शिकंजा

मुख्य साजिशकर्ता एवं शूटर पर पुलिस ने कसा शिकंजा, नेपाल न्यायालय से तीन आरोपितों की जमानत

By: Ashish vajpayee

Published: 13 Mar 2018, 10:16 PM IST

चेतन द्विवेदी. बांसवाड़ा. अंजुमन इस्लामिया के पूर्व सदर अबूलाला एवं सोहराब हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता सिराज खान एवं उसके भाई इम्तियाज तथा एक और शूटर ने नेपाल में 75 हजार जुर्माना राशि जमा करा दी है और तीनों आरोपितों की नेपाल जेल से रिहाई भी हो गई है। इसके साथ ही बांसवाड़ा पुलिस ने भी तीनों पर अपना शिकंजा कस दिया है। सब कुछ ठीक ठाक रहा तो जल्द ही आरोपित बांसवाड़ा पुलिस की गिरफ्त में होंगे। पुलिस सूत्रों के अनुसार आरोपित सिराज खान उसका भाई इम्तियाज व शूटर करीब तीन-चार दिन पूर्व नेपाल न्यायालय से छूुटे। इसके बाद जैसे ही बांसवाड़ा पुलिस को इसकी भनक लगी तो उसने नेपाल पुलिस एवं उत्तर प्रदेश पुलिस मदद से शिकंजा कस दिया ताकि आरोपित दोबारा भूमिगत नहीं हो जाए। सूत्रों के अनुसार आरोपितों का अब पुलिस के शिकंजे से छूट पाना मुश्किल दिखाई पड़ रहा है।

पुलिस ने दिखाई तत्परता
इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक कालूराम ने बताया कि आरोपित सिराज एवं उसके भाई तथा शूटर पर पुलिस शुरू से ही निगाहे गढ़ाए हुई थी। आरोपित यहां से भागे और नेपाल पहुंचे तो पुलिस यहां से नेपाल पहुंची और वहां जब कार्रवाई के लिए पहुंची तो उनको वहां जेल में बंद करवाने की करवाई। साथ ही आरोपित का पूरा आपराधिक रिकॉर्ड भी नेपाल पुलिस को सौंपा गया। इससे आरोपित दोबारा नेपाल में शरण न ले सके। इसके अलावा जब आरोपित की सजा अवधि पूरी हुई तो यहां से पुलिस बल नेपाल पहुंचा, लेकिन आरोपितों ने जुर्माना राशि नहीं भरी। इसके चलते वे जेल में ही रहे। इससे पुलिस वहां से लौट आई। अब आरोपितों की रिहाई हो गई है तो पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने के प्रयास में जुट गई है।

यह थी अंतिम वारदात
गत सात अक्टूबर की शाम करीब छह बजे अंजुमन इस्लामिया के सदर सोहराब खां पांच-छह अन्य लोगों के साथ रऊफ लाला की गुमटी पर बैठा था तभी हमूलावर आए गोलियां बरसा कर हत्या करदी थी।

Show More
Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned