कुशलगढ़ थाने का हैड कांस्टेबल एसीबी की ट्रेप से बचा पर रिश्वत मांगना साबित, अब बना केस

www.patrika.com/banswara-news

 

By: deendayal sharma

Published: 03 Jan 2019, 09:54 PM IST

बांसवाड़ा.डूंगरपुर. बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ थाने में पदस्थ एक हैडकांस्टेबल के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की डूंगरपुर इकाई ने रिश्वत मांगने का मुकदमा दर्ज किया है। एसीबी ने गत वर्ष जुलाई में हैडकांस्टेबल सुभाषचंद्र पाटीदार को ट्रेप करने का प्रयास किया था, लेकिन सफलता नहीं मिली, लेकिन उसके खिलाफ मिली शिकायत का सत्यापन हो गया। इस आधार पर एसीबी ने अब प्रकरण दर्ज कर अब विस्तृत अनुसंधान शुरू किया है।
एसीबी के उपाधीक्षक गुलाबसिंह कटारा ने बताया कि 2 जुलाई 2018 को कुशलगढ़ इलाके के परिवादी मानसिंह ने ब्यूरो में शिकायत दी थी। इसमें बताया कि प्रार्थी ने आपसी जमीन विवाद को लेकर हुए झगड़े पर कुशलगढ़ थाने में केस दर्ज कराया था। उसकी जांच हैडकांस्टेबल सुभाष पाटीदार को सौंपी गई थी। पाटीदार ने जांच की एवज में पांच हजार रुपए रिश्वत की मांग की। बाद में चार हजार रुपए देना तय किया। ब्यूरो ने शिकायत का सत्यापन कराया। पुष्टि होने पर 4 जुलाई 2018 को हैडकांस्टेबल सुभाष को ट्रेप करने के लिए टीम कुशलगढ़ पहुंची। वहां जाकर पता चला कि सुभाष विभागीय काम से दो-तीन दिन के लिए बाहर गया हुआ है। इससे कार्रवाई नहीं हो पाई। संभवतया हैडकांस्टेबल को इसकी भनक लग गई, इसलिए उसने दोबारा परिवादी से कभी संपर्क नहीं किया। उपाधीक्षक कटारा ने बताया कि शिकायत के सत्यापन में हैडकांस्टेबल की ओर से रिश्वत मांगने की पुष्टि हो चुकी थी। इस आधार पर प्रकरण बनाकर मुख्यालय भेजा गया। अब अनुमति मिलने पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। अब विस्तृत अनुसंधान किया जाएगा।

 

deendayal sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned